breaking news New

हिमाचल में आया ब्लैक फंगस का पहला मामला

हिमाचल में आया ब्लैक फंगस का पहला मामला

शिमला।  हिमाचल प्रदेश में ब्लैक फंगस का पहला मामला सामने आया है। मरीज की हालात स्थिर बनी हुई है।
मरीज का उपचार प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल इंदिरा गांधी मेडिकल कालेज (आईजीएमसी) में चल रहा है।
महिला मंडी जिले के नेरचैक मेडिकल कॉलेज से एक ब्लैक फंगस का पेशंट रेफर किया गया है। इनके नाक के पास ब्लैक फंगस है।
आईजीएमसी के आई वार्ड के एचओडी डा राम लाल ने पुष्टि करते हुए बताया कि कोविड वार्ड में दाखिल महिला में ब्लैक फंगस के लक्षण दिखे हैं। जिसके सैंपल लिए गए है और रिपोर्ट आज शाम तक आएगी।
ज्ञातव्य है कि यह महिला हमीरपुर जिले के खागर क्षेत्र से हैं और शुगर एवं बीपी से पीड़ित भी है। यह महिला चार मई को कोरोना पॉजिटिव आयीं थीं और बाद में आठ मई को साँस को तकलीफ ले चलते हमीरपुर से नेरचैक रेफर हुई।
उल्लेखनीय है कि ब्लैक फंगस कोरोना संक्रमितों की आंखों पर हमला करता है। शुरूआज में ब्लैक फंगस से संक्रमित व्यक्ति को जुकाम, नाक बंद होना, नाक से खून आनात्र दर्द, चेहरे पर सूजन व कालापन आना जैसे लक्षण आते है।
संक्रमण फैलने पर मरीज बेहोश होने लगाता है। व अन्य मानसिक दिक्कतें शुरू हो जाती है। इस रोग से आंखों, फेफड़ों व अंदरूनी अंगों पर प्रभाव पड़ता है और यह पहले से ही कमजोर प्रतिरोधक क्षमता वाले व्यक्तियों पर आसानी से हमला करता है।