breaking news New

Breaking : मुंडका अग्निकांड से दहली दिल्ली, 27 की मौत, कम से कम 27 लोगों की मौत, कई घायल

Breaking : मुंडका अग्निकांड से दहली दिल्ली, 27 की मौत, कम से कम 27 लोगों की मौत, कई घायल

नयी दिल्ली। पश्चिमी दिल्ली के मुंडका मेट्रो के पिलर नंबर 545 के पास स्थित इमारत में शुक्रवार को भीषण आग लगने से कम से कम 27 लोगों की मौत हो गई है। हालांकि, मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका अभी भी जताई जा रही है।

अग्निशमन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने 27 शव बरामद किए हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, 12 से अधिक लोग आग में झुलस गए हैं और उनका इलाज संजय गांधी अस्पताल में चल रहा है।

दिल्ली अग्निशमन विभाग के मुताबिक, उन्हें शाम के करीब 4:40 बजे आग लगने की घटना की सूचना मिली। आग पर काबू पाने के लिए दमकल की 30 गाड़ियां मौके पर पहुंची और इसके साथ ही पीड़ितों को तत्काल चिकित्सा सहायता प्रदान करने के लिए एम्बुलेंस की सुविधा भी मौके पर उपलब्ध कराई गई। फायर ब्रिगेड की मदद के लिए एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल) की टीम भी मौके पर तैनात थी।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि यह एक चार मंजिला इमारत है। आग इमारत की पहली मंजिल में लगी, जहां एक सीसीटीवी कैमरे और राउटर निर्माण कंपनी का कार्यालय है। इमारत में स्थित एक गोदाम में परफ्यूम और देसी घी होने की वजह से आग ने तेजी से पूरे गोदाम को अपनी चपेट में ले लिया।

उन्होंने कहा, हादसे के वक्त इमारत में करीब 200 लोग थे जिसमें एक कमरे में 50-60 लोगों की मीटिंग भी हो रही थी तभी आग में इन्हें अपनी चपेट में ले लिया। खिड़कियों के शीशे को तोड़कर लोगों को बाहर निकालने का काम किया गया।

दिल्ली के आउटर डिस्ट्रिक्ट के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) समीर शर्मा ने बताया कि दिल्ली पुलिस ने आज शाम दिल्ली के मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास आग लगने वाली इमारत के मालिक हरीश गोयल और वरुण गोयल को हिरासत में लिया है, जो बिल्डिंग के टॉप फ्लोर में रहते हैं। उन्होंने अब तक 50 लोगों को बचाए जाने की भी जानकारी दी।

इस हादसे पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, गृह मंत्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित कई और केन्द्रीय व राज्य मंत्रियों ने शोक जताया है।

श्री मोदी ने हादसे पर शोक जताते हुए कहा है कि उनकी संवेदना शोक संतप्त परिवारों के साथ है। साथ ही प्रधानमंत्री ने घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना की है।

प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर लिखा, “दिल्‍ली में भीषण आग के कारण लोगों की मौत से बेहद दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।”

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री राहत कोष से मृतकों को परिजनों को दो-दो लाख रुपये एवं घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता देने की घोषणा की है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मुंडका में भीषण अग्निकांड के बाद घटनास्थल पर पहुंचकर हालात का जायज़ा लिया।

श्री जैन ने कहा, “मुंडका में आग लगने की दुःखद घटना के बारे में सुनकर स्तब्ध हूं। घटनास्थल पर पहुंचकर अग्निशमन अधिकारियों के साथ इलाके का मुआयना किया। आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया है।”

उन्होंने कहा कि इस दुःखद घटना में 27 लोगों की जान गई है। राहत एवं बचाव का कार्य जारी है। भगवान दिवंगत आत्मा को शांति दें।