breaking news New

लोगों के सुख-दुख में साथी सुरक्षा के लिए तैनात जवान लगातार दे रहे मानवता का परिचय

 लोगों के सुख-दुख में साथी सुरक्षा के लिए तैनात जवान लगातार दे रहे मानवता का परिचय

कृष्णा नायक दोरनापाल

 दोरनापाल।  सुकमा जिले में सुरक्षा के लिए तैनात सुरक्षाबल के जवानों का हमेशा नया रूप देखने को मिलता है जिले के विकास में योगदान देने वाले जवान जरूरतमंदों की सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहते है दुर्गम क्षेत्रों में तैनात जवान लोगों के सुख दुख में साथ देकर लगातार मानवता का परिचय दे रहे। 

चिंतलनार थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम लखापाल निवासी मडकम अनिल की पत्नी एर्रे का प्रसव हुआ है प्रसव पश्चात महिला ने बच्चे को जन्म दिया लेकिन पेट का कचड़ा पूरा साफ नही हो पाया जिसके कारण महिला और उसका परिवार काफी परेशान है। पीड़िता के पति के भाई  जोगा ने चिंतलनार स्वास्थ्य केंद्र आकर इस परेशानी को बताया तो अस्पताल स्टाफ द्वारा एंबुलेंस खराब होना बता कर पल्ला झाड़ लिया अब देखना है इस पर उच्च अधिकारी क्या संज्ञान लेते हैं

समय रहते चिंतलनार थाना प्रभारी और कोबरा 201 के अधिकारियो ने  वाहन का इंतजाम कर महिला की बेहतर इलाज के लिए की मदद

जैसे ही चिंतलनार थाना प्रभारी और कोबरा 201 बटालियन के अधिकारियो को इसकी जानकारी मिली तो उक्त महिला को लखापाल से लाने के लिए पिकअप वाहन का इंतजाम कर गांव भेजा।वाहन से महिला को चिंतलनार ला कर गंभीर हालातो को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए दोरनापाल अस्पताल पहुंचाकर सुरक्षाबल के जवानों ने आदर्श वाक्य जीवन पर्यंत कर्तव्य की सार्थकता को एक बार फिर सिद्ध किया है।

201 कोबरा के अधिकारियों ने बताया कि यहां के गांव लखेपाल निवासी अनिल की पत्नी ने बच्चे को जन्म दिया है बच्चे के जन्म के पश्चात से महिला के पेट का कचड़ा साफ नही होने के कारण तड़प रही महिला को नजदीकी अस्पताल चिंतलनार ले जाने के लिए कोई वाहन नहीं मिल रहा था।अंत में थाना प्रभारी चिंतलनार और कोबरा 201 बटालियन के अधिकारियो को महिला के स्वजनों ने इसकी सूचना दी, जिसके बाद उन्होंने बिना देर किए तुरंत एक वाहन को  उसके घर भेज दिया। महिला को परिवार के सदस्यों के साथ चिंतलनार ला कर बेहतर इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दोरनापाल  ले जाया गया, जहां प्राथमिक जांच के बाद उसे तुरंत जिला अस्पताल सुकमा रेफर किए गया अभी स्थिति में सुधार है और खतरे से बाहर है। 

इधर,  महिला के स्वजनों ने समय पर सहयोग के लिए थाना प्रभारी और कोबरा 201 बटालियन के  अधिकारियों के प्रति  आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आप सभी हमेशा जरूरतमंद लोगों की मदद करते हैं।उन्होंने यह भी कहा कि यदि सुरक्षाबल के जवानों ने समय पर उनकी मदद नहीं की होती तो कोई अनहोनी की घटना भी हो सकती थी।

इस क्षेत्र के लोगों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहती है इधर, चिंतलनार थाना प्रभारी ने कहा कि हमारे  जवान  सुरक्षा के अपने नियमित काम के अलावा, इन क्षेत्र में रहने वाले लोगों की मदद के लिए भी हमेशा तैयार रहते हैं, जिसके कारण बल और स्थानीय निवासियों के बीच हमेशा आपसी संबंध और सहयोग बना रहता हैं?