पीलिया के 25 नए मरीज मिले, कई इलाकों में पानी की सप्लाई बंद, राजधानी के लोगों में डर.. कोरोना से लड़ें या पीलिया से, गंदा और कीड़ेयुक्त पानी से फैल रही बीमारी

पीलिया के 25 नए मरीज मिले, कई इलाकों में पानी की सप्लाई बंद, राजधानी के लोगों में डर.. कोरोना से लड़ें या पीलिया से, गंदा और कीड़ेयुक्त पानी से फैल रही बीमारी

रायपुर. राजधानी रायपुर में कोरोना के साथ ही पीलिया की दहशत के साये में लोग जीने को मजबूर हैं। बुधवार को शहर में पीलिया के नए 7 मरीज मिलने से शहर के निचले इलाकों में रहने वाले लोगों में हड़कंप मच गया, लेकिन गुरूवार शाम को आई रिपोर्ट में 25 नए पीलिया के मरीजों की पुस्टि हो गई। इसके साथ ही पिछले हप्ते भर के भीतर पीलिया संक्रमित लोगों की संख्या 40 पहुंच गई।

सीएचएमओ ने गुरूवार शाम को पीलिया प्रभावित इलाकों में हुई पानी की जांच रिपोर्ट जारी करते हुए बताया कि शहर में कई दिनों से इलाकों में गन्दा पानी आ रहा है। इलाके के पानी की जांच में क्लेबसिएला और स्यूडोमोनास बैक्टीरिया पाया गया, साथ ही पानी में  बड़ी मात्रा में ई-कोलाई बैक्टरिया भी मिला। जिससे पीलिया, डायरिया जैसी कई खतरनाक बीमारियां होती हैं।

अगर पिछले 10 दिनों का अकड़ा देखा जाये तो शहर के अलग अलग इलाकों में 60 से ज्यादा पीलिया पीड़ित मरीज मिल चुके हैं। लेकिन जिम्मेदार लॉक डाउन की आड़ लेकर खुद को बचाने में लगे हैं। रायपुर के दो इलाके आमापारा और स्वीपर कालोनी में सबसे ज्यादा पीलिया के मरीज हैं। आमापारा इलाके में 10 से ज्यादा संक्रमित लोग पाये जाने पर इलाके में निगम ने पानी सप्लाई ही बंद कर दी है। जिसके बाद बुधवार शाम को पानी आने के समय पर निगम आयुक्त शौरभ कुमार ने मौके पर जाकर घर घर में सप्लाई के पानी की टेस्टिंग भी करवाई, जिसके बाद इलाके में पानी की सप्लाई बंद की गई। लेकिन जिम्मेदारों का ये कहना है की लॉक डाउन की वजह से मजदुर नहीं मिल रहे इसलिए नई पाइप लाइन बिछाने या पुरानी पाइप लाइन को सुधरने का काम नहीं हो पा रहा है। तो क्या अब पूरी गर्मी लोगों को पानी की बून्द बून्द के लिए तरसना पडेगा।

पीलिया से बचाने प्रशासन ने पानी सप्लाई तो बंद कर दी और अब इलाके में टैंकर के द्वारा पानी पहुंचवाया जाएगा, जिसके बाद लोग हर बार की तरह पानी के लिए लड़े-झगड़ेगें। अब देखना यह है कि कोरोना से बचने के लिए मानक दूरी तय की गई है और पीलिया से बचाने के लिए पानी सप्लाई बंद की गई है। तो क्या टैंकर से पानी भरते समय लाइन लगवाई जाएगी, साथ ही मास्क और ग्लब्ज पहनने वालों को ही पानी मिलेगा या हर बार की तरह इलाकों में टैंकर पहुंचाकर जनता को उसके हाल पर छोड़ दिया जाएगा।

वर्जन

जहां सप्लाई बंद की गई है वहां पर टैंकर की व्यवस्था करवाई जा रही है। प्रभावित इलाकों में जल्द ही पाइप लाइन बदलवाने और पाइप लाइन बिछवाने का काम शुरू किया जायेगा : सतनाम पनाग एमआईसी सदस्य निगम रायपुर

वर्जन

पीलिया प्रभावित इलाकों में लगातार स्वास्थ्य कैंप लगाए जा रहे हैं। सभी इलाकों में संभावित लक्षण होने पर 5-5 लोगों के सैम्पल लिए जा रहे हैं : विनीत जैन, अधीक्षक, मेकाहारा