breaking news New

जरूरतमंदों को राशन बाँटते विधायक और पत्तों का मास्क की खबर कवर करने वाले पत्रकार के खिलाफ एफआईआर दर्ज

जरूरतमंदों को राशन बाँटते विधायक और पत्तों का मास्क की खबर कवर करने वाले पत्रकार के खिलाफ एफआईआर दर्ज

रायपुर।  लाकॅडाउन के दौरान कांग्रेसी  विधायक और पत्रकारों द्वारा    धारा 144 का उलंघन करने के आरोप में इनके  खिलाफ एफआईआर दर्ज किया गया है ।  कांकेर के आमाबेड़ा पुलिस थाने में पत्रकारों के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 और 34 के तहत जुर्म दर्ज किया गया है। जबकि बिलासपुर के सिविल लाइन थाने में कांग्रेस विधायक शैलेष पांडेय के खिलाफ आईपीसी की धारा 144 के तहत जुर्म दर्ज किया गया है। 


 शिकायत के मुताबिक कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए धारा 144 लगी है।  इस दौरान एक गांव में कुछ पत्रकार कवरेज के लिए गए थे।  तहसीलदार की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है। इन लोगों के खिलाफ अभी कोई आगे की कार्रवाई नहीं हुई है, उन्हें भी पक्ष रखने का मौका दिया जाएगा।  मामले की जांच की जा रही है।  


कांकेर ज़िले के अंतागढ़ के कुछ गांवों में पिछले दिनों जब एक बैठक बुलाई गई तो आदिवासी वहां पत्तों से बनाए मास्क पहनकर पहुंच गए।  स्थानीय लोगों ने बताया कि वहां मेडिकेटेड मास्क नहीं पहुंचा है।  इस कारण   संक्रमण से बचने के लिए आदिवासियों ने ये देशी तरीका अपनाया है।  भर्रीटोला गांव में इसी खबर की कवरेज पत्रकारों ने की. इन्हीं पत्रकारों के खिलाफ जुर्म दर्ज कर​ लिया गया है।  पुलिस की ये कार्रवाई सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रही है। 



बिलासपुर सिविल लाइन पुलिस थाने के प्रभारी परिवेश ने बताया कि रविवार की सुबह विधायक शैलेष पांडेय के यहां काफी भीड़ इकट्ठा हुई  थी।  वे वहां धारा 144 का उलंघन कर राशन बांट रहे थे।  ऐसे में उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत जुर्म दर्ज किया गया है।  जांच की जा रही है। 

chandra shekhar