breaking news New

केजरीवाल सरकार 122 शिक्षकों को करेगी सम्मानित

केजरीवाल सरकार 122 शिक्षकों को करेगी सम्मानित

नयी दिल्ली। कोरोना काल में अद्वितीय काम करने वाले दिल्ली सरकार के स्कूलों के 122 शिक्षकों को केजरीवाल सरकार राज्य शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित करेगी।

दिल्ली स्टेट टीचर अवार्ड 2021 इस बार कई मायनों में काफी खास है। इस बार ‘फेस ऑफ़ डीओई’ के साथ-साथ एससीईआरटी/डाइट के टीचर-एजुकेटरों को भी सम्मानित किया जाएगा।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने आज कहा कि कोरोना काल में हमारे टीचर्स ने न केवल अपने छात्रों की शिक्षा सुनिश्चित की बल्कि कोविड ड्यूटी में सबसे आगे रहकर और आगे बढ़कर नेतृत्व किया। हमारे शिक्षकों ने कोरोना के दौरान दिल्ली से अन्य राज्यों में चले गए बच्चों को कड़ी मेहनत से न सिर्फ ढूंढा बल्कि अपने खर्चों पर दिल्ली बुलाया। ऐसे बच्चे जो ऑनलाइन क्लास नहीं कर सकते थे उन्हें डिवाइस दिए, डेटा रिचार्ज करवाया लेकिन उनकी पढ़ाई नहीं रुकने दी। ये साल बहुत चुनौतीपूर्ण रहा है फिर भी शिक्षकों ने न केवल अपने स्टूडेंट्स की शिक्षा सुनिश्चित की बल्कि कोविड ड्यूटी में सबसे आगे रहकर नेतृत्व किया। उन्होंने शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर शिक्षकों का आभार प्रकट करते हुए कहा कि हमें अपने शिक्षकों पर गर्व है। दिल्ली की स्कूली शिक्षा में क्रन्तिकारी बदलाव उनकी बदौलत ही आए है। इसे अब विश्व स्तर पर भी मान्यता मिल चुकी है।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली के शिक्षकों ने कोरोना के कठिन समय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने न केवल प्रशासन के साथ कंधे से कन्धा मिलाकर चलने का काम किया है बल्कि वैक्सीनेशन, क्वॉरेंटीन सेंटर, खाना बांटने, मास्क इन्फोर्समेंट, एयरपोर्ट् ड्यूटी सभी में उल्लेखनीय काम किया। इन ड्यूटी के साथ-साथ अपना मूल कर्तव्य निभाते हुए ऑनलाइन टीचिंग का काम भी जारी रखा और बच्चों की पढ़ाई को रुकने नहीं दिया। कोरोना के दौरान बड़े स्तर पर लोगों का माइग्रेशन हुआ, बहुत से बच्चे दूसरे राज्यों में चले गए। इसके बावजूद हमारे शिक्षकों ने न केवल इन बच्चों को ढूंढने का काम किया बल्कि अपने खर्चों पर बच्चों को दिल्ली बुलाया। ऐसे बच्चे जो ऑनलाइन क्लास नहीं कर सकते थे उन्हें डिवाइस दिए और डेटा रिचार्ज करवाया लेकिन उनकी पढ़ाई नहीं रुकने दी। इससे पता चलता है कि गुरु श्रेष्ठ है।

दिल्ली सरकार हर साल शिक्षक दिवस के अवसर पर स्टेट टीचर अवार्ड द्वारा शिक्षकों को सम्मानित करती है और शानदार जश्न के माध्यम से उनका आभार प्रकट करती है। साल 2021 का स्टेट टीचर अवार्ड कई मायनों में विशेष रहेगा। इस बाबत उपमुख्यमंत्री ने कहा कि इस साल हमने स्टेट टीचर अवार्ड में कई प्रकार के बदलाव किए है। पहले ये अवार्ड केवल अकेडमिक क्षेत्र में दिया जाता था लेकिन इस साल इसमें कई अन्य फील्ड भी जोड़े गए है। उन्होंने बताया कि इस साल अवार्ड की संख्या पिछले साल की तुलना में 103 से बढ़ा कर 122 किया गया है।‌

उन्होंने कहा लोगों से अपील करते हुए कहा कि हम सभी के जीवन में हमारे शिक्षकों का बड़ा योगदान रहा है। इसलिए कल शिक्षक दिवस के अवसर पर कम से कम अपने एक शिक्षक को फोन कर उनके प्रति आभार प्रकट करे।‌ कल शिक्षक दिवस के साथ-साथ शिक्षक आभार दिवस भी मनाये। उन्होंने मीडिया से भी अपील करते हुए कहा कि शिक्षक हमारे रियल लाइफ हीरो हैं। इसलिए शिक्षक दिवस के अवसर पर उनके कामों को मीडिया के माध्यम से जनता तक पहुंचा कर उनका आभार व्यक्त करें।