breaking news New

छूरेबाजी से थर्राया राजधानी, अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियों से चाकूबाजों का कनेक्शन, एक महीने के भीतर 100 से ज्यादा चाकूबाजी

 छूरेबाजी से थर्राया राजधानी, अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियों से चाकूबाजों का कनेक्शन, एक महीने के भीतर 100 से ज्यादा चाकूबाजी

रायपुर। बीते दिनों राजधानी की पुलिस ने अभियान चलाकर चाकूबाजों को गिरफ्तार भी किया था। इसके बावजूद छूरेबाजी की घटनाओं में कोई कमी नहीं आ रही है।  राजधानी में बढ़ती चाकूबाजी की घटनाओं से पुलिस को फजीहत का सामना करना पड़ रहा है। इस बीच पुलिस के निशाने पर अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियां भी आ गई हैं।
पिछले  एक महीने के दौरान राजधानी में 100 से ज्यादा चाकूबाजी की घटनाएं हो चुकी हैं। आपराधिक वारदात और आनलाइन सामान डिलीवर करने वाली कंपनियों का आपस में क्या संबंध।  पुलिस ने छूरेबाजी की जिन घटनाओं का खुलासा किया और जिन चाकुओं को बरामद किया है, वे सामान्य चाकू नहीं थे। स्टाइलिश दिखने वाले इन चाकुओं को अपराधियों ने इन्हीं कंपनियों से खरीदा था।

हाल में हुई हत्याओं और चाकूबाजी की घटनाओं में पकड़े गए आरोपितों से पूछताछ में यह पता चला कि उन्होंने इन स्टाइलिश चाकुओं को फ्लिपकार्ट और अमेजन से खरीदा था। एसएसपी अजय यादव ने बताया कि इसके बाद अमेजन और फ्लिपकार्ट के अधिकारियों को लिखित में निर्देश दिए हैं कि यदि जिले में कोई भी ऐसी चाकुओं के लिए आर्डर करता है, तो उसका नाम और पता पुलिस को बताएं।

इसके बाद पुलिस चाकू ऑर्डर करने वाले से संपर्क कर पता करेगी कि उसने किस काम के लिए चाकू का आर्डर दिया था। यदि घरेलू काम के लिए चाकू खरीदा गया है, तो कोई बात नहीं। अन्यथा पुलिस कार्रवाई करेगी। इसके साथ ही कंपनियों को जिलेभर में किसी भी प्रकार के बटन वाले चाकू की डिलीवरी नहीं करने के निर्देश दिए गए हैं।