breaking news New

देर रात घरों में लूट को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश, आरोपियों में 3 नाबालिक शामिल

देर रात घरों में लूट को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश, आरोपियों में 3 नाबालिक शामिल


घटना का मास्टमाइंड चंदू कर्मा फरार, एनसीसी ड्रेस पहन नक्सली बनकर घटना को दिया अंजाम

बचेली-बचेली थाना क्षेत्रान्तर्गत ग्राम दुगेली, पाढ़ापुर में रात्रि में लूट को अंजाम देने वाले गिरोह को पुलिस पकड़ने में सफलता मिली है, लेकिन इस घटना का मास्टर माइंड अभी फरार है। 5 लुटेरों द्वारा अलग अलग स्थानों पर लूट की घटना को अंजाम दिया गया। इस घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। प्रार्थियो की शिकायत पर पुलिस द्वारा मुस्तैदी दिखाते हुए हुलिए के आधार पर सर्चिंग की गई जिसमें एक बालिग व तीन नाबालिक को पकड़ने में पुलिस कामयाब रही। लेकिन इस घटना का मास्टरमाइंड टिकनपाल निवासी चंदू कर्मा अभी फरार है।

पुलिस के मुताबिक घटना 30 जुलाई की रात्रि की है। अगले दिन 31 जुलाई को सुबह 8 बजे दुगेली ग्राम के प्रार्थियो द्वारा बचेली थाना में आकर मौखिक सूचना दिया गया। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा तत्काल कार्यवाही करने एव आसपास हुलिया के आधार पर पता तलाश करने का निर्देश दिया गयं। इसी क्रम में प्रार्थियो से लूट करने आये आरोपियों का हुलिया एवम अन्य जानकारी ली गई जिसकी पहचान गोरा लम्बा बाल वाला के रूप में होने से किसी आरोपी के एक दिन पूर्व थाने आने के कारण थाना स्टाफ द्वारा इस आरोपी का फोटो दिखाकर पहचान कराया गया। जिसे प्रार्थी ने तत्काल पहचानते हुए इसके एवं अन्य साथियों द्वारा घटना को अंजाम देना बताया गया। तत्काल थाना टीम बनाकर उक्त आरोपी के वर्तमान निवास मर दबिश दी गई। निवास स्थल पर प्रार्थी द्वारा पहचान किये आरोपी के अलावा उनके तीन अन्य साथी भी निवास स्थान पर मिले।

एसडीओपी देवांश राठौर ने बताया कि बचेली थाना में दुगेली ग्राम के प्रार्थियेा द्वारा मौखिक शिकायत की गई थी कि बीती रात को लूट की वारदात की गई। हुलिया के आधार पर पहचान कर टीम बनाकर अलग-अलग जगहो पर दबिश दी गई। संदेहियो को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ करने पर उनसे लूट की सामान व एनसीसी ड्ेस बरामद की गई। आरोपियो ने कबूलते हुए बताया कि पूरा घटना का मास्टर माइंड चंदू कर्मा है। नक्सली बताकर व चाकू की नोक पर डराकर पैसे की लूट करेगे और बराबर पैसे को बाट लेगे।

इस प्रकार दिया घटना को अंजाम-
आरोपियों द्वारा बताया गया कि रात्रि 11 बजे किराए के मकान में घटना का मास्टर माइंड टिकनपाल निवासी चंदू कर्मा, पिता जोगा कर्मा द्वारा हम सभी को समझाया गया कि आज हम लोग नक्सली बनकर पाढ़ापुर और दुगेली के 3-4 घरों में लूट की घटना को अंजाम देंगे, जिसका पैसा सभी में बराबर बाटेंगे। जिसके सभी लालच में राजी हो गए। वे 5 लोग 2 मोटरसाइकिल में बैठकर पाढ़ापुर की ओर निकले जहां नाला के पास बैग में रखे एनसीसी खाकी वर्दी को पहनकर सोमडु कुंजाम व वेला इलामी निवासी पाढ़ापुर के घर बारी बारी चाकू, डंडा का भय दिखाकर लूट को अंजाम दिया ।
पाढ़ापुर से निकलकर दुगेली की ओर गए जहाँ रॉड किनारे एक दुकान में लगें ताला को चंदू कर्मा द्वारा तोड़ा गया दुकान में रखे समानों को बैग में रखकर आगे निकले। दुगेली गाँव से थोड़ी दूर बाइक रखकर सभी पांच कैलाश कर्मा के घर पहुचे और दरवाजा खटखटाया। खोलने पर चंदू ने कहा कि हम नक्सली है हमे पैसा चाहिए, पैसा नही बोलने पर लोहे की रोडब्से प्रार्थी के जांघ में मारे और बोले कि तुम्हारे घर में जितना पैसा है निकालो जिससे घर के अन्य लोग डर गये और घर के अलमारी में झिल्ली में रखे 20 हजार रूपये, आधार कार्ड और बैंक पास बुक को छिनकर अपने पास रखे बैग मं डालकर चले गये। वहाॅ से निकलकर पोदिया कर्मा के घर गये वहाॅ भी हम नक्सली हमे पैसा दो कहकर डराने लगे। पोदिया द्वारा दो हजार रूपये देने पर नही माने और घर के अंदर पेटी की तलाशी कर पेटी में रखे 4500 रू हाथ रखे दो हजार लूट कर ले गये। उसके बाद कुछ दूर संजय कर्मा के घर जाकर भी दरवाजा खटखटाया नक्सली बताकर पैसे की मंाग करते हुए पा्रार्थी के गले में चाकू अड़ाकर बोला कि तुम दो ट्ैक्टर के मालिक हो 40 हजार रूपयेदो नही तो तुम्हारा गला काट देगे, बोलने पर प्रार्थी डर कर कमरे के पेटी में छिपाकर रखा हुआ 20 हजार रूप्ये निकालकर दे दिया।
दूर में रखे बाईक के पास जाकर एनसीसी खाकी वर्दी को उतारकर बैग में रखे। गोंगपाल जाकर चंदू कर्मा ने कहा कि पैसे का बटवारा बाद में आकर करेगे। मैं अपने घर टिकनपाल जा रहा हॅ, तुम लोग बचेली चले जाओ, कहने पर हम चार लोग नकुलनार सातधार होते हुए बचेली अपने मकान मंे आकर सो गये। उक्त घटना को अंजाम दिये चंदु कर्मा पिता जोगा कर्मा निवासी टिकनपाल, गोपाल कड़ती पिता मंगल कड़ती निवासी मझारपारा थाना किरंदुल एवं 3 अन्य नाबालिक इसमे शामिल थे।

प्रार्थियो के सूचना के आधार पर थाना बचेली में पृथक-पृथक से अपराध दर्ज करते हुए पुलिस अनुविभागीय अधिकारी किंरदुल देवांश राठौर के नेतृत्व में निरीक्षक अमित पाटले, उपनिरीक्षक केशव ठाकुर, कैलाश साहु, सहायक उपनिरीक्षक के सीमाचलम एवं पूरा थाना स्टाफ द्वारा टीम भावना से घटना का खुलासा करने मंे सराहनीय योगदान दिया।