breaking news New

फर्जी तहसीलदार और राजस्व अधिकारी बनकर उगाही करने वाले आरोपियों पर कार्यवाही

फर्जी तहसीलदार और राजस्व अधिकारी बनकर उगाही करने वाले आरोपियों पर कार्यवाही

जगदलपुर, 30 मई। जगदलपुर शहर में दुकानों को लाॅकडाऊन के नियमानुसार समय पर बंद कराने का एवं अपने आप को तहसीलदार होने का धौंस दिखाकर फर्जी तौर पर चालानी कार्यवाही कर दुकानदारों से रूपये पैसे की उगाही करने वाले 02 आरोपियों को पकड़ने एवं कार्यवाही करने में कोतवाली पुलिस द्वारा कार्यवाही कर गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की गई है । 

ज्ञात हो कि जगदलपुर एवं आसपास के क्षेत्रों में सूचना मिला था कि कुछ व्यक्ति अपने आप को तहसीलदार और राजस्व अधिकारी बनकर लाॅकडाऊन में निर्धारित समय सीमा में दुकान बंद नहीं किया गया है कहकर धमकी देते हुए कुछ दुकानदारोें पर फर्जी तरीके से चालान काटकर रूपये पैसे की उगाही किया जा रहा है । जिस पर तहसीलदार जगदलपुर के लिखित आवेदन पर आरोपी के विरूद्व धारा - 419, 420, 467, 468, 471, 170, 34 भा0द0वि0 का अपराध पंजीबद्व कर अनुसंधान में लिया गया । 

दौरान अनुसंधान के मामले के संदेही जीत उर्फ राजीव रक्षित एवं मोह0 शाहबाज खान को घेराबंदी कर पकड़ा गया है । जिनके पास तलाशी लेने पर 16 नग फर्जी चालान प्रति जिनमें 05 प्रतियों में दुकानदारों पर कार्यवाही विवरण लिखा हुआ है एवं 5,000/- रूपये, 02 नग मोबाईल और आरोपी जीत रक्षित के पास 01 परिचय पत्र जिसमें जीत रक्षित को तहसीलदार जगदलपुर का परिचय पत्र जारी होना उल्लेखित है को आरोपियों को कब्जे से बरामद किया गया है । पूछताछ पर आरोपियों ने अपना जुर्म स्वीकार किया है । 


मामले में आरोपियों के द्वारा सेमरा, आड़ावाल, नियानार एवं जगदलपुर शहर में दुकानदारों को समय पर दुकान बंद नहीं किया गया है की धमकी देकर अवैध रूप से रूपये पैसे की उगाही करना स्वीकार किया गया है । मामले में दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर न्यायालय रवाना किया गया है । 

 महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले अधि0/कर्मचारी में निरीक्षक  - एमन साहू,उप निरी0 - संजय वट्टी, बी0पी0 जोशी, प्र0आर0 - चोवादास गंेदले, आर0    - प्रकाश नायक, रवि सरदार, गायत्री तारम, सायबर सेल- दीपक कुमार शामिल रहें।