breaking news New

किसानों की सरकार ने किसान पुत्रों को सौंपी किसानों के कल्याण की जिम्मेदारी: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

किसानों की सरकार ने किसान पुत्रों को सौंपी किसानों के कल्याण की जिम्मेदारी: मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल


  रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है, कि छत्तीसगढ़ की सरकार, किसानों की सरकार है। राज्य में खेती-किसानी को समृद्ध बनाने और किसानों के कल्याण और खुशहाली की जिम्मेदारी उनकी सरकार ने किसान पुत्रों एवं वर्षों से कृषि से जुड़े अनुभवी लोगों को सौंपी है। मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि इसका लाभ राज्य के किसान भाइयों को मिलेगा। मुख्यमंत्री बघेल आज अपने निवास कार्यालय से छत्तीसगढ़ राज्य बीज एवं कृषि विकास निगम के नवनियुक्त अध्यक्ष  अग्नि चंद्राकर, सदस्य  जालम सिंह पटेल,  दिलीप पांडे एवं  शंकर बघेल के पदभार ग्रहण समारोह को वर्चुअल रूप से संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर कृषि मंत्री  रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, मुख्य सचिव  अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू उपस्थित थे।

 मुख्यमंत्री  बघेल ने इस अवसर पर बीज निगम के नवनियुक्त अध्यक्ष एवं सदस्यों को बधाई देते हुए कहा कि राज्य में कृषि के क्षेत्र और किसानों की बेहतरी के लिए बहुत काम करने की जरूरत है। धान की खेती के साथ-साथ अन्य फसलों की खेती, उद्यानिकी और वृक्षारोपण को सरकार बढ़ावा दे रही है। उन्होंने कहा कि धान के साथ-साथ अन्य फसलों के अच्छे क्वालिटी के बीज का उत्पादन राज्य में हो, किसान लाभकारी फसलों की खेती के लिए आगे आए, यह प्रयास हम सबको करने की जरूरत है। उन्होंने कृषि और किसानों की बेहतरी के लिए सर्व  अग्नि चंद्राकर,  जालम सिंह पटेल,  शंकर बघेल सहित कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष  सुरेंद्र शर्मा के कार्यों की सराहना की और कहा कि छत्तीसगढ़ के किसान भाइयों को इनके अनुभव का लाभ मिलेगा।

  कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि छत्तीसगढ़ कृषि प्रधान राज्य है। राज्य का सर्वांगीण विकास और गांवों में खुशहाली, कृषि पर निर्भर है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार की किसान हितैषी नीतियों एवं कार्यक्रमों के चलते राज्य में बंपर फसल उत्पादन होने लगा है। आने वाले सालों में इसमें और अधिक बढ़ोतरी होगी। उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी मांग के अनुरूप उन्नत क्वालिटी के बीज की आपूर्ति की जिम्मेदारी राज्य बीज निगम की है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य बीज उत्पादन के मामले में पूरी तरह से आत्मनिर्भर बन जाए, यह हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए। कार्यक्रम को नवनियुक्त अध्यक्ष श्री अग्नि चन्द्राकर ने भी सम्बोधित किया और कहा कि किसानों की बेहतरी के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किए जा रहे कामों को पूरी जिम्मेदारी के साथ आगे बढ़ाने का काम उनकी नई टीम करेगी। उन्होंने कहा कि बीज एवं अन्य कृषि संबंधी सामग्री की आपूर्ति के मामले में किसानों का बीज निगम पर भरोसा रहे, यही हमारी प्राथमिकता होगी। इस अवसर पर कृषक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष  सुरेन्द्र शर्मा,  लक्ष्मण पटेल,  रश्मि चन्द्राकर,  उषा पटेल सहित अन्य कृषक प्रतिनिधि उपस्थित थे।