डा. रमन ने लाकडाउन के दौरान शराब दुकान खोलने का किया विरोध

 डा. रमन ने लाकडाउन के दौरान शराब दुकान खोलने का किया विरोध

रायपुर, 04 अप्रैल | भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह ने राज्य में लाकडाउन के दौरान शराब दुकाने बंद करने के जारी निर्णय को शिथिल करने के प्रयासों का विरोध किया है।डा.सिंह ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखकर कहा कि उन्हे समाचार पत्रों के द्वारा ज्ञात हुआ है कि राज्य सरकार शराब की दुकाने बंद करने के जारी एवं लागू आदेश को श्थिल करने का निर्णय लिया है,तथा अनुशंसा हेतु विभागीय अधिकारियों की समिति बनाई गई है।

देश के जो हालात है,और सोशल डिंस्टेसिंग की इस समय जो सबसे बड़ी आवश्यकता है,इस निर्णय से उसका कोई मतलब नही रह जायेगा।उन्होने पत्र में कहा कि 14 अप्रैल तक सोशल डिंस्टेसिंग नितांत जरूरी है।शराब की दुकाने खुलने से देशी एवं विदेशी शराब की दुकानों पर भीड़ बढ़ेगी,जो समान्यजन,गरीब एवं कमजोर वर्ग के मदिरा प्रेमियों को इंफेक्शन बढ़ाने जैसा कदम होगा।जिससे दूरगामी प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।

उन्होने पत्र में केरल सरकार के शराब की दुकाने खोलने के निर्णय पर केरल उच्च न्यायालय के द्वारा रोक लगाने का भी उल्लेख करते हुए अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने को कहा है।ज्ञातव्य है कि राज्य में कुछ स्थानों से शराब नही मिलने से कथित रूप से लोगो के आत्महत्या करने एवं राजधानी में तीन युवको के मेडिकल स्प्रीट पीने से हुई मौत का हवाला देते हुए राज्य सरकार ने दो दिन पूर्व चार सदस्यीय एक समिति गठित कर उसे शराब दुकाने संचालित करने लिए आवश्यक निर्देश तय करने को कहा है। इससे माना जा रहा है कि शराब की दुकाने एक दो दिन में खुल सकती है।