breaking news New

Breaking आईपीएल 2022 सीजन को 27 मार्च से शुरू करने पर विचार कर रहा बीसीसीआई

Breaking आईपीएल 2022 सीजन को 27 मार्च से शुरू करने पर विचार कर रहा बीसीसीआई

मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) आईपीएल के 2022 सीजन को 27 मार्च से शुरू करने पर विचार कर रहा है जो टूर्नामेंट की योजनाबद्ध शुरुआत से लगभग एक हफ्ता पहले है। बीसीसीआई अधिकारियों और सभी फ्रेंचाइजियों के मालिकों के बीच की शनिवार हुई बैठक में इस पर चर्चा की गई है।

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने आईपीएल फ्रेंचाइजी मालिकों के साथ बैठक के बाद कहा, “ मुझे यह पुष्टि करते हुए खुशी हो रही है कि आईपीएल का 15वां सीजन मार्च के आखिरी हफ्ते में शुरू होगा और मई के अंत तक चलेगा। अधिकतर टीम मालिकों ने अपनी इच्छा व्यक्त की है कि टूर्नामेंट भारत में आयोजित किया जाए। बीसीसीआई हमेशा से 2022 के संस्करण का आयोजन करने के लिए उत्सुक था, जिसमें दो नई टीमें अहमदाबाद और लखनऊ दिखाई देंगी। मैं आपको बता सकता हूं कि हम यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे कि आईपीएल भारत में रहे। ”

शाह ने कहा, “ बीसीसीआई ने अतीत में अपने हितधारकों के स्वास्थ्य और सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया है, इसलिए हम साथ ही साथ प्लान बी पर काम करेंगे, क्योंकि कोरोना वायरस के नए स्वरूपों के साथ कोरोना महामारी की स्थिति तरल बनी हुई है। मेगा आईपीएल नीलामी 12 और 13 फरवरी को होगी और हम उससे पहले आयोजन स्थल चुन लेंगे। ”

10 टीमों की टूर्नामेंट की मेज़बानी करने के लिए मुंबई को पहले विकल्प के रूप में रखा गया है। साथ ही किसी भी तरीक़े की मुश्किल परिस्थिति से निपटने के लिए संयुक्त अरब अमीरात और दक्षिण अफ़्रीका को बैक-अप के रूप में रखा गया है। मुंबई को आईपीएल की मेज़बानी के लिए चुने जाने का सबसे बड़ा कारण यह है कि वहां कई मैदान हैं। साथ ही टीमों को एक महामारी की स्थिति में एक शहर से दूसरे शहर तक यात्रा करने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी। आईपीएल 2021 के मध्य में ही जब कोविड मामलों की संख्या में बढ़ोतरी आई थी तब टूर्नामेंट को कुछ समय के लिए रोकना पड़ा था और बाद में इसे यूएई में कराया गया। उस वक़्त आईपीएल खिलाड़ियों में कोविड मामलों में बढ़ोत्तरी का मुख्य कारण, टीमों को एक शहर से दूसरे शहर तक यात्रा करने को ठहराया गया था।

समझा जाता है कि आईपीएल 2022 का मुख्य स्थल मुंबई होगा और अगर कोरोना मामले कम होते हैं तो अहमदाबाद प्ले-ऑफ की मेजबानी कर सकता है, हालांकि अगर आईपीएल की मेजबानी के लिए भारत में कोरोना संबंधित स्थिति संभव नहीं पाई जाती है तो यूएई और दक्षिण अफ्रीका को बैक-अप विकल्प के रूप में माना जाएगा।यदि भारत में महामारी की स्थिति के कारण टूर्नामेंट की मेज़बानी में किसी तरह की परेशानी होती है, तो दक्षिण अफ़्रीका और यूएई बिना किसी विशेष क्रम के बैक-अप विकल्प होंगे।

शनिवार की बैठक में आईपीएल ने अपने सभी फ्रेंचाइज़ी से कहा कि 20 फ़रवरी तक इस सबंध में अंतिम फ़ैसला लिए जाने की उम्मीद है। वानखेड़े स्टेडियम के साथ-साथ मुंबई में दो अन्य मैदान भी हैं जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय मैचों की मेज़बानी की है: ब्रेबॉर्न स्टेडियम और डीवाई पाटिल स्टेडियम। बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स में मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन द्वारा संचालित मैदान भी है, जिसने घरेलू टूर्नामेंट की मेज़बानी की है और जहां आईपीएल टीमों ने अतीत में प्रशिक्षण भी लिया है

उल्लेखनीय है कि इससे पहले आज आईपीएल ने घोषणा की थी कि आगामी मेगा नीलामी का हिस्सा बनने के लिए कुल 1214 खिलाड़ियों (896 भारतीय और 318 विदेशी) ने पंजीकरण कराया है। दो दिन तक चलने वाली नीलामी में 10 टीमें खिलाड़ियों के लिए बोली लगाएंगी। खिलाड़ियों की इस सूची में 270 कैप्ड, 903 अनकैप्ड और 41 सहयोगी खिलाड़ी शामिल हैं। नीलामी से पहले कुल 33 खिलाड़ियों को रिटेन या चुना गया है। मौजूदा आठ फ्रेंचाइजियों ने कुल 27 खिलाड़ियों को रिटेन किया है, जबकि दो नई टीमों ने नीलामी से पहले छह खिलाड़ियों को चुना है।