breaking news New

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवसः कलेक्टर की अध्यक्षता जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवसः कलेक्टर की अध्यक्षता जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक

1 वर्ष से 19 वर्ष आयु वर्ग के 75 हजार से अधिक बच्चों को खिलायी जायेगी कृमिनाशक दवा

नारायणपुर, 23 फरवरी। कलेक्टर धर्मेश कुमार साहू की अध्यक्षता में आज कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के लिए जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक संपन्न हुई। कलेक्टर श्री साहू ने राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के संबंध में की गयी तैयारियों की जानकारी ली और जरूरी दिशा-निर्द्रेश अधिकारियों केा दिये। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन आगामी मार्च माह की 15 से 22 तारीख तक किया जायेगा। उन्होंनेे कहा कि 1 वर्ष से 19 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को कृमिनाश्क दवाई एल्बेंडाजॉल खिलायी जायेगी। इसके पूर्व दवाईयों की पर्याप्त व्यवस्था, संबंधित कर्मचारियों को आवश्यकतानुसार प्रशिक्षण आदि प्रदान किया जाये। कलेक्टर श्री साहू ने जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को आवश्यक सहयोग प्रदान करने कहा। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए.आर. गोटा ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में 1 वर्ष से 19 वर्ष आयु वर्ग के 75 हजार 498 बच्चों को कृमिनाशक दवाई खिलाने का लक्ष्य रखा गया है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं मितानिनों द्वारा घर-घर जाकर 1 वर्ष से 19 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों एलवेंडजॉल की दवाई खिलायेगी। मैदानी अमले को जानकारी दी गयी है कि बड़े बच्चों को गोली चबाकर खिलाना है, इस दवाई को खाली पेट नहीं देना है। वहीं छोटे बच्चे जो गोली को पानी अथवा दूध में घोलकर खिलाना है। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत राहुल देव, एसडीएम दिनेश कुमार नाग, संयुक्त कलेक्टर सुश्री निधी साहू, डिप्टी कलेक्टर सर्व वैभव क्षेत्रज्ञ, गौरी शंकर नाग, धनराज मरकाम, फागेश सिन्हा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए.आर.गोटा, जिला शिक्षा अधिकारी जी.आर मंडावी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास ए.सी. बर्मन, कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग रविकांत ध्रुर्वे, सिविल सर्जन एम.के.सूर्यवंशी, के अलावा अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।