breaking news New

Breaking जबरदस्त लिवाली से फिर से 60 हजारी हुआ सेंसेक्स

Breaking जबरदस्त लिवाली से फिर से 60 हजारी हुआ सेंसेक्स

निफ्टी भी 18 हजार की ओर लपका

मुंबई।  एशियाई बाजार के मिश्रित संकेतों के बीच यूरोपीय बाजारों के बढ़त के साथ खुलने और घरेलू स्तर पर अक्टूबर में विनिर्माण पीएमआई में तेजी एवं जीएसटी राजस्व संग्रह में हुयी बढोतरी के बल पर कारोबार के अंतिम चरण में हुयी जबरदस्त लिवाली से शेयर बाजार चार दिनों की गिरावट से उबरते हुये बढ़त हासिल करने में सफल रहा। इस दौरान बीएसई का सेंसेक्स फिर से 60 हजारी हो गया और एनएसई का निफ्टी भी 18 हजार की ओर लपक गया।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के अंतिम चरण में हुयी तूफानी तेजी के बल पर 831.53 अंकों की उछाल लेकर 60138.46 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 258 अंकों की बढ़त के साथ 17929.65 अंक पर रहा।

इस दौरान छोटी और मझौली कंपनियों में भी लिवाली का जाेर देखा गया जिससे बीएसई का मिडकैप 1.75 फीसदी उछलकर 25720.18 अंक पर और स्मॉलकैप 1.11 प्रतिशत बढ़कर 28293.05 अंक पर रहा। बीएसई के सभी समूह बढ़त में रहे जिसमें रियल्टी 3.56 प्रतिशत, टेलीकॉम 3.50 प्रतिशत, धातु 3.27 प्रतिशत, टेक 2.42 प्रतिशत और आईटी 2.21 प्रतिशत प्रमुखता से शामिल है।

बीएसई में कुल 3501 कंपनियों में कारोबार हुआ जिसमें से 2160 बढ़त में और 1148 गिरावट में रही जबकि 193 में कोई बदलाव नहीं हुआ।

विदेशी बाजार में एशियाई बाजार जहां मिश्रित रहा वहीं यूरोपीय बाजार बढ़त में रहा। ब्रिटेन का एफटीएसई 0.48 प्रतिशत, जर्मनी का डैक्स 0.82 प्रतिशत और जापान का निक्केई 2.61 प्रतिशत चढ़ गया जबकि हांगकांग का हैंगसेंग 0.88 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.08 प्रतिशत उतर गया।