breaking news New

ठोस अपशिष्ट प्रबंधन की जिम्मेदारी संबंधित ग्राम पंचायत को दी जाए

ठोस अपशिष्ट प्रबंधन की जिम्मेदारी संबंधित ग्राम पंचायत को दी जाए

सक्ती जांजगीर चांपा।   जांजगीर-चांपा लोकसभा सांसद  गुहाराम अजगल्ले की अध्यक्षता में आज जिला पंचायत के सभाकक्ष में जिला विकास समन्यव एवं निगरानी समिति ( दिशा)  की बैठक आयोजित की गई। सांसद ने स्वच्छ भारत अभियान की समीक्षा करते हुए कहा कि  ठोस अपशिष्ट प्रबंधन की जिम्मेदारी संबंधित ग्राम पंचायत को दी जाए। ताकि इसकी सतत निगरानी की जा सके। स्थान की उपलब्धता एवं आवश्यकता अनुसार अपशिष्ट प्रबंधन के लिए स्थानीय निकाय आवश्यक कार्यवाही कर सके।

        सांसद  ने सरकार द्वारा संचालित मनरेगा योजना की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह योजना गरीब परिवारों के लिए वरदान है । योजना के तहत किए गए कार्य जनोपयोगी हो यह सुनिश्चित करें। इस योजना का लाभ कोरोना  काल में अन्य राज्यों से लौटे प्रवासी मजदूरों को मिला है । मनरेगा के कार्य की स्वीकृति जनप्रतिनिधियों के प्रस्ताव के आधार पर करने का सुझाव दिया।   

      सांसद ने  शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छ भारत अभियान  के तहत शौचालय निर्माण और प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत निर्माणाधीन मकान के लंबित प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। 

जांजगीर-चांपा विधायक श्री नारायण प्रसाद चंदेल ने कहा कि संबंधित क्षेत्र के स्थानीय जनप्रतिनिधियों को स्वीकृत कार्यों की जानकारी उपलब्ध कराएं। जिससे कार्यों की समय-समय पर निरीक्षण और समीक्षा की जा सके।  अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के समन्वय से निर्माण कार्य स्वीकृत कराने  की बात कही।

अकलतरा विधायक  सौरभ सिंह ने योजना के तहत स्वीकृत कार्यों की जानकारी के साथ-साथ कार्य के शुभारंभ की जानकारी स्थानीय जनप्रतिधियो को देने का सुझाव दिया। 

जैजैपुर विधायक  केशव चंद्रा एवं पामगढ़ विधायक  इंदु बंजारे ने  निर्माण कार्यों को समय सीमा में पूर्ण करवाने का सुझाव दिया। विशेषकर सड़क निर्माण एवं मरम्मत कार्य में गुणवत्ता पर निगरानी करने के लिए अधिकारियों से कहा।

कलेक्टर  श्री यशवंत कुमार ने कहा कि  मनरेगा के तहत मजदूरी मूलक कार्यों को प्राथमिकता के साथ स्वीकृत किया जाता है।  इससे श्रमिकों का पलायन रुकेगा। उन्होंने जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया कि मजदूरी मूलक कार्यों का प्रस्ताव यथाशीघ्र भेजें। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के अधूरे निर्माण कार्यों को शीघ्र पूरा करवाने के लिए डूडा प्रभारी को निर्देशित किया।

जिला पंचायत सीईओ  तीर्थराज अग्रवाल ने पिछली बैठक का  पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए  बैठक के एजेंडावार जानकारी प्रस्तुत की।

बैठक में कौशल विकास योजना, पीएमजीएसवाई, प्रधानमंत्री आवास योजना,  स्वच्छ भारत मिशन,  समेकित बाल विकास योजना,   राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, खाद्य सुरक्षा योजना सहित एजेंडावार कार्य की प्रगति की समीक्षा की गई और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

 कलेक्टर  यशवंत कुमार ने आज की बैठक में दिए गए निर्देशों और निर्णय के अनुरूप  जिले में कार्य कराए जाने के प्रति प्रतिबद्धता जताई।

बैठक के अंत में

जिला पंचायत सीईओ  तीर्थराज अग्रवाल ने आभार व्यक्त किया। बैठक में  वन मंडल अधिकारी श्रीमती प्रेमलता यादव,  विभिन्न नगरीय  निकायों , त्रिस्तरीय पंचायत के जनप्रतिनिधि सहित जिला स्तरीय विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।