breaking news New

अधिकारियों के लापरवाही के चलते अधर में लटकी घोंघली नदी पुल , प्रधानमंत्री सड़क के अधिकारी व ठेकेदार के प्रति ग्रामीणों में आक्रोश

 अधिकारियों के लापरवाही के चलते अधर में लटकी घोंघली नदी पुल , प्रधानमंत्री सड़क के अधिकारी व ठेकेदार के प्रति ग्रामीणों  में आक्रोश

भानुप्रतापपुर। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क विभाग के अधिकारियों के लापरवाही के चलते समयावधि में भी दुर्गुकोदल विकासखंड के अंतर्गत ग्राम-तुमरीटोला और हल्बापारा मिचेसुखई के मध्य घोंघली नदी में पुल 360.09 लाख की लागत से बनने वाली पुल अधर में लटकी हुई है। कार्य देखकर ठेकेदार व विभाग के प्रति लोगो मे आक्रोश व्याप्त है।


जानकारी के अनुसार  भानुप्रतापपुर के मे.शिवशक्ति इंजीनियरिंग वर्कस ने 29 जनवरी 2021 को घोंघली नदी में 68.04 मीटर पुल निर्माण का काम शुरू कराया, जो अब तक अधूरा है। जिसके चलते क्षेत्रवासी चिंतित हैं। इस बार बारिश के दिनों में क्षेत्रवासियों को आवागमन करने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। वहीं ठेकेदार ने अब तक लापरवाहीपूर्वक निर्माण कार्य कराया है। नाले से रेत सप्लाई कर पुल निर्माण कराया जा रहा है गुणवत्ता पर ध्यान बिल्कुल भी नहीं दिया गया है। ठेकेदार द्वारा दी गई समयावधि खत्म होने के बावजूद इन दिनों पुल निर्माण का कार्य बँद पड़ा हुआ है जबकि यहाँ लगे सूचना बोर्ड पर पुल निर्माण की पूर्णता तिथि 25 जनवरी 2022 नियत है। इस तिथि को 03 महीने गुजर गये,ठेकेदार काम बँद कर गायब है। 

इस सम्बंध में ग्रामीण प्रेमलाल खरे,रतनलाल खरे,संतोष गोयल,जगतुराम गोयल आदि ने बताया कि घोंघली नदी में जब से पुल निर्माण का काम शुरू हुआ है,ठेकेदार द्वारा लगातार लापरवाही बरती जा रही है। महीनों तक काम बँद रखा जा रहा है। अब तक पुल निर्माण पूर्ण होना था। अब यदि जून के पहले निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ तो स्कूली बच्चों और क्षेत्रवासियों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। ग्रामीणों ने कहा कि यदि जल्द से जल्द ठेकेदार द्वारा पुल निर्माण कार्य शुरू नहीं कराया जाता है तो दुर्गूकोंदल में धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। क्षेत्रवासियों ने शीघ्रता से पुल निर्माण कार्य पूरा कराने की मांग शासन-प्रशासन से की है।