breaking news New

पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष ने जमीन पर बैठकर की मामलों की सुनवाई

पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष ने जमीन पर बैठकर की मामलों की सुनवाई
रायपुर।  उच्च न्यायालय के आदेश पर बहाल छत्तीसगढ़ पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष ने आज अपने कार्यालय परिसर में जमीन पर बैठकर मामलों की सुनवाई शुरू कर दी।
छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के आदेश पर बहाल पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष सियाराम साहू आज आयोग के कार्यालय पहुंचे और अध्यक्ष का कक्ष बन्द होने के कारण उसके सामने जमीन पर बैठकर मामलों की सुनवाई की।इस दौरान कई लोग आवेदन लेकर पहुंचे जिस पर उन्होने आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए।हालांकि इस दौरान आयोग के कार्यालय के कर्माचारियों ने भी उन्हे पूरा सहयोग नही दिया।
दरअसल राज्य की भूपेश सरकार ने सत्ता में आने के बाद पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष सियाराम साहू को हटाकर उनकी जगह पर थानेश्वर साहू को अध्यक्ष बना दिया।इसको सियाराम साहू ने उच्च न्यायालय में यह कहते हुए चुनौती दी कि आयोग के अध्यक्ष का पद संवैधानिक है,और उनका कार्यकाल पूरा हुए राज्य सरकार उन्हे हटा नही सकती है। उच्च न्यायालय ने उनकी याचिका स्वीकार करते हुए उन्हे पद पर बहाल कर दिया।
श्री साहू के अनुसार लगभग एक पखवारे पहले उच्च न्यायलय के आदेश के बाद जब उऩ्होने फिर कार्यभार संभाला तब भी उनका कक्ष बन्द था।वह दो बार इस सिलसिले में विभागीय सचिव से भी मिले पर उनके आश्वासन के बाद भी कक्ष का ताला नही खुला।इसके बाद उऩ्होने आज से जमीन पर बैठकर मामले सुनने का निर्णय लिया। इस दौरान उऩके साथ पूर्ववर्ती सरकार के समय नियुक्त आयोग के सदस्य भी मौजूद थे।