breaking news New

BIG NEWS : कोरोना से अनाथ हुए बच्चों को बेचने पर एनजीओ कार्यालय सील

BIG NEWS : कोरोना से अनाथ हुए  बच्चों को बेचने पर एनजीओ कार्यालय सील

श्रीनगर।  जम्मू-कश्मीर प्राधिकरण ने गुरुवार को एक गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) के दफ्तर को सील कर दिया, जिसपर कोविड काल में अनाथ हुए बच्चों को बेचने का आरोप है।

अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पुलिस और सरकारी अधिकारियों ने मिलकर दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के पम्पोर के संपूरा इलाके में ग्लोबल वेलफेयर चैरिटेबल ट्रस्ट के दफ्तर पर कोविड काल में कथित तौर पर अनाथ बच्चों को बेचने के आरोप के तहत छापा मारा गया। इस कार्रवाई में दफ्तर के सभी कागजातों को जब्त कर, दफ्तर को सील कर दिया गया।

पुलिस ने बुधवार को प्रदेश के समेकित बाल संरक्षण सेवा (आईसीपीएस) के अभियान निदेशक के ध्यान में आने के बाद एनजीओ के खिलाफ गैरकानूनी दत्तक ग्रहण और कोविड से अनाथ हुए बच्चों को बेचने के आरोप को लेकर एफआइआर दर्ज की थी।एनजीओ से ये जुड़ी ये जानकारी मीडिया के माध्यम से आईसीपीएस की नजर में आई थी, जिसमें दो लोगों द्वारा ब्रिकी की जानकारी दी गई।

जिसके पश्चात आईसीपीएस के अभियान निदेशक शाबनाम कामिली ने प्राधिकरण को कार्रवाई करने के निर्देश दिए। वहीं श्री कामिली ने पहचाने गए कोविड काल में अनाथ हुए बच्चों से बाल कल्याण समितियों से तुरंत निजी तौर पर मिलने का आदेश दिए है।समाजिक कल्याण विभाग सचिव शीतल नंदा ने तुरंत कार्रवाई को लेकर इस मामले को कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार के समक्ष पेश किया।

इन अनाथ बच्चों की पहचान विभागों और केंद्र सरकार के ऑनलाइन पॉर्टल पर उपलब्ध डाटा से की गई है। वहीं बाल कल्याण समितियों को एक दिन के अंदर आईसीपीएस के प्रबंध विभाग को रिपोर्ट देने का कहा गया है।साथ ही जम्मू-कश्मीर क्षेत्र में सभी अनाथ और कोविड के समय अनाथों की संख्या की पहचान करने के लिए केंद्र शासित प्रदेश में संवैधानिक समिति का गठन हुआ है।