breaking news New

बारिश के पूर्व वर्मी कंपोस्ट का निर्माण होने पर जल्द छनाई और पैकिंग का कार्य पूर्ण करें - सीइओ

बारिश के पूर्व वर्मी कंपोस्ट का निर्माण होने पर जल्द छनाई और पैकिंग का कार्य पूर्ण करें - सीइओ

गोधन  न्याय के साथ पंचायत एवं ग्रामीण विकास की सभी योजनाओं की समीक्षा कर सीइओ ने दिए निर्देष
बैकुण्ठपुर।  जिला पंचायत के मंथन कक्ष में जनपद पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारियों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समस्त योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी ने संबंधितों को योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन हेतु आवष्यक दिषा-निर्देष दिए। समीक्षा बैठक में कृषि विभाग, उद्यान विभाग, कृषि विज्ञान केंद्र कोरिया के अधिकारी भी उपस्थित रहे। समीक्षा बैठक की षुरूआत में षासन की महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने सभी जनपद पंचायतों के क्रियाषील ग्राम गौठानवार गोबर की खरीद और उससे वर्मी कंपोस्ट बनाने की प्रगति की समीक्षा की। विभिन्न गौठानों में वर्मी कंपोस्ट निर्माण की प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होने आगामी एक पखवाड़े में गौठानों में बने सभी वर्मी कंपेास्ट की छनाई और पैकिंग का कार्य पूर्ण कराने के निर्देष कृषि विभाग के अधिकारियों को दिए। साथ ही उन्होने कहा कि गौठानों के नोडल अधिकारी गंभीरतापूर्वक सभी चरणों में इसकी आनलाइन इंट्री सुनिष्चित करें। जिला पंचायत सीइओ ने कहा कि जनपद पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी अपने क्षेत्रों में प्रगतिरत गौठानों की पूर्णता पर विषेष ध्यान देकर उन्हे एक पखवाड़े अभियान चलाकर पूर्ण कराएं। जिससे वहां पर गोधन न्याय योजना के तहत किसानों से गोबर खरीदी का काम प्रांरभ हो सके। उन्होने उप संचालक कृषि विभाग को प्रगतिरत गौठानों में वर्मी टांको के निर्माण की प्रगति की नियमित समीक्षा कर प्रतिदिन उसकी रिपोर्टिंग करने के निर्देष दिए। उन्होने कहा कि बारिष के पूर्व खरीदा गया पूरा गोबर टांकों में डालकर खाद बनाने की प्रक्रिया में लें ताकि बारिष से कोई नुकसान ना हो।
          गोठानों के निर्माण के साथ ही जिला पंचायत सीइओ ने ग्राम गौठानों के साथ बनने वाले चारागाहों के विकास की प्रगति की समीक्षा की। केवीके के माध्यम से बनने वाले चारागाहों के प्रगति की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने आगामी 15 जून तक सभी प्रगतिरत चारागाहों में नेपियर की बुआई कराने के निर्देष दिए। ग्राम पंचायतो के द्वारा बनाए जा रहे नवीन पंचायत भवनों को जून में ही पूरा कराकर उसे कार्यालय के रूप में उपयोग करने के निर्देष देते हुए जिला पंचायत सीइओ ने कहा कि सभी जनपद सीइओ अपने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व से संपर्क कर पंचायत भवनों के साथ बने खाद्यान्न की उचित मूल्य दुकानों को भी प्रारंभ कराने की प्रक्रिया पूरी कर लें। सभी ग्राम पंचायत भवनांे को प्रत्येक कार्य दिवस में खुला रखने के निर्देष देते हुए उन्होने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना और मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना के डिटेल के बैनर ग्राम पंचायत कार्यालयों में प्रचार प्रसार के लिए लगवाएं या उसे बाहरी दीवार पर पेंट कराएं ताकि ज्यादा से ज्यादा किसान उसका लाभ ले सकें। सार्वजनिक मद की रिक्त पड़ी भूमि पर पौधारोपण कराए जाने के प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देष देते हुए उनहोने कहा कि सभी जनपद अपने अपने ग्राम पंचायतों के मांग के अनुरूप पौधों की संख्या का मांग पत्र दें ताकि उन्हे समय पर निष्चित संख्या में पौधे दिए जा सकें।
     महात्मा गांधी नरेगा के क्रियान्वयन की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने कहा कि राज्य द्वारा निर्धारित मानकों के अनुरूप नरवा विकास के कार्यों को तेजी से करांए ताकि उसका लाभ जल संरक्षण के लिए मिल सके। उन्होने कहा कि सभी वनाधिकार पत्रकधारियों को ष्षत-प्रतिषत रोजगार उपलब्ध कराने के लिए कार्ययोजना बनाकर उन्हे कार्यों में संलग्न करांए। इसी तरह अनुसूचित जाति और जनजातीय परिवारों के पंजीकृत श्रमिकों को प्राथमिकता के आधार पर 100 दिन का रोजगार उपलब्ध करांए। ग्राम पंचायतों के लक्ष्य अनुसार लेबर बजट को ध्यान में रखकर रोजगारमूलक कार्यो की प्रगति लांए। एमआइएस पर सभी आनलाइन इंट्री को समय पर पूरा करांए तथा कार्यक्रम अधिकारी इसे निरंतर मानीटर करें। जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी ने स्वच्छ भारत मिषन के तहत बनने वाले सार्वजनिक षौचालयों और हाइवे के किनारे बनने वाले षौचालयों को जल्द पूरा कराने के निर्देष दिए। इसके अलावा उन्होने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिषन, रूरबन मिषन, प्रधानमंत्री आवास योजना के प्रगति की समीक्षा कर आवष्यक दिषा-निर्देष दिए। समीक्षा बैठक में प्रभारी उपसंचालक पंचायत श्रीमती ऋतु साहू, सभी योजनाओं के प्रभारी अधिकारी और जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।