breaking news New

किसान पुत्र ही समझ सकता है किसानो की जरूरत - विपिन साहू

किसान पुत्र ही समझ सकता है किसानो की जरूरत - विपिन साहू

धमतरी, 12 मई। कोरोना काल के इस दौर में एक तरफ केंद्र सरकार किसानो के प्रति अपनी बेवफाई पेश कर रही है तो वहीं राज्य के मुख्या द्वारा किसानों के हित में सोचते हुए और मौसम की मार को भी ध्यान मे रखते हुए किसानो को जल कर को माफ कर उन्हें थोड़ी राहत देने का सफल प्रयास कर रही है कोरोना संकट में किसानों को आर्थिक मजबूती  देने राज्य शासन की इस फैसले की अधिसूचना जारी कर दी गयी है । 

सरकार ने अब तक के कार्य काल का पुरा बकाया माफ करने का निर्णय लिया है यह फैसला किसानो को राहत देगा। इधर न्याय योजना के तहत भी किसानो को अतिरिक्त राशि मिलने से भी संकट में बड़ा सहारा मिला है इस अधिसूचना के तहत 1 नवम्बर 2018 से 30 जून 2020 तक की स्थिति मे 18 माह का जलकर माफ करने की घोषणा की है राज्य सरकार के इस फैसले से प्रदेश के लगभग 20 लाख पंजीकृत किसानों को इसका फायदा मिलेगा। इस फैसले का पुरा राज्य स्वागत करता है और सरकार के इस अनुकरणीय फैसले का दिल से अभिवादन करता है। 

सरकार ने टीकाकरण के सुझाव और  विचार हेतु सर्वदल की वर्चुअल बैठक जो की दिन बुधवार को आयोजित की जानी है परंतु बीजेपी इसमे भी राजनीति करने से बाज नहीं आ रही है यह समय राजनीति का नही एकता दिखा कर समाज को इस महामारी से दूर कैसे किया जाए और टीकाकरण को प्रदेश मे कैसे सफल बनाया जाए उसका है परंतु विपक्षी अपने रंगत दिखाने से बाज नही आ रहे है।

राज्य सरकार से मै यह निवेदन करता हूँ की राज्य की मंडियो मे रबी फ़सल धान के अलावा भी सभी फसलो का उचित मूल्यों में  खरीदी प्रारंभ की जाए और मंडियो मे सामाजिक दूरी, मास्क का उपयोग और प्रशासन द्वारा जारी गाइड लाइन का भी विशेष ध्यान रखा जाए।