देश में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन जरूरत से ज्यादा : सरकार

देश में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन जरूरत से ज्यादा  : सरकार


नयी दिल्ली ! हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन के निर्यात को लेकर उठे विवाद के बीच सरकार ने शुक्रवार को  साफ किया कि देश में यह दवा इस समय आवश्यकता से तीन गुना से अधिक मौजूद है।  

विदेश मंत्रालय में कोविड-19 प्रकोष्ठ के प्रभारी अतिरिक्त सचिव दामू रवि ने कहा कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन सहित कुछ दवाओं के निर्यात खोलने की विदेशों की मांग पर सचिवों की समिति और फिर मंत्रिसमूह ने विचार किया है और देश की जरूरतों एवं उत्पादन की स्थिति के आधार पर कुछ दवाओं के निर्यात पर प्रतिबंधों में ढील दी गयी है।

 रवि ने कहा कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन की मांग सर्वाधिक है और उसकी आपूर्ति के लिए सर्वाधिक अनुरोध प्राप्त हुए हैं। जिन देशों को ये दवा भेजी जानी है, सरकार ने उनकी पहली सूची को स्वीकृति दे दी है और अब दूसरी सूची तैयार हाे रही है। बाद में तीसरी सूची भी तैयार की जाएगी।


उन्होंने कहा कि इस हिसाब से भी देखा जाये तो हमारी ज़रूरत से कहीं अधिक मात्रा में यह दवा उपलब्ध है और निर्यात से देशवासियों की जरूरतों पर कोई विपरीत असर पड़ने की कतई कोई संभावना नहीं है।

chandra shekhar