breaking news New

केन्द्रीय विस्टा परियोजना पर रोक लगाने वाली याचिका पर सुनवाई 17 मई तक टली

केन्द्रीय विस्टा परियोजना पर रोक लगाने वाली याचिका पर सुनवाई 17 मई तक टली
नयी दिल्ली।  दिल्ली उच्च न्यायालय ने कोरोना वायरस के बढ़ते हुए प्रकोप काे देखते हुए केन्द्रीय विस्टा परियोजना पर रोक लगाने संबंधी याचिका पर सुनवाई 17 मई तक के लिए टाल दी है।

याचिकाकर्ता ने परियोजना में कार्यरत मजदूरों और इसमें शामिल अन्य लोगों का जीवन बचाने की गुहार लगायी और कहा कि परियोजना पर किये जा रहे निर्माण कार्य से कोरोना वायरस का संक्रमण और बढ़ सकता है।

मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल ने कहा कि पीठ उच्चतम न्यायालय की ओर से इस बारे में दिये गये फैसले का अध्ययन करना चाहती है। न्यायालय ने हालांकि कहा कि वह परियोजना को लेकर नोटिस जारी नहीं करेगा।

याचिका में कहा गया है कि यदि यह परियोजना रोकी नहीं गयी तो कोरोना संक्रमण के बढ़ रहे प्रकोप के बीच हालात और खराब होंगे और कोरोना के कारण राष्ट्रीय राजधानी में और मौतें होंगी।

याचिका में पुलिस उपायुक्त के दिल्ली में कर्फ्यू और लॉकडाउन के बावजूद केन्द्रीय विस्टा एवेन्यू के काम के लिए वाहनों को ‘आवश्यक सेवा’ श्रेणी के पास दिये जाने के फैसले पर सवाल उठाया है।