breaking news New

मोंगरा बाई के काबिज जमीन को दूसरे व्यक्ति द्वारा खरीदी बिक्री किये जाने पर नोटिस तामिल हेतु आवेदन

मोंगरा बाई के काबिज जमीन को दूसरे व्यक्ति द्वारा खरीदी बिक्री किये जाने पर नोटिस तामिल हेतु आवेदन


मालखरौदा। सकर्रा के स्व मिलाप सिदार उर्फ़ (ठुठ्वा) सुपुत्री आवेदिका मोंगरा बाई सिदार द्वारा ग्राम के सरपंच व् बीडीसी दुलार बरेठ पिता रतिराम बरेठ को मोंगरा बाई के काबिज जमीन को गैर ब्यक्ति द्वारा खरीदी बिक्री करने के संबंध में नोटिस तामिल कराने हेतु आवेदन दिया गया था. 

उक्त आवेदन के संबंध में ग्राम के सरपंच द्वारा अनावेदक दुलार बरेठ को नोटिस तामिल कराया गया था. उक्त की पावती मोंगरा बाई को प्राप्त हो चुका है. उक्त जमीन के संबंध में निर्धारित दिनांक 9 अक्टूबर को दोपहर 3 बजे बैठक लिया गया. जिसमें चर्चा के दौरान जमीन बिक्रेता द्वारा अपने स्वतः को स्व: मिलाप उर्फ़ ठुठ्वा का गोदनामा पुत्र बताया गया. जिनके डी उक्त गोदनामा के संबंध में साक्ष्य हेतु दस्तावेज प्रस्तुत नही है. उसी प्रकार बिक्रेता ने अपना नाम दुलार सिंग सिदार पिता ठुठ्वा बताया गया. लेकिन उनके पास दुलारसिंग पिता स्व: मिलाप (ठुठ्वा) के संबंधित फारमेंटरी राशन कार्ड, आधार कार्ड, परिचय पत्र, राजस्व अभिलेख दर्ज किसी भी प्रकार का दस्तावेज प्रस्तुत नही कर पाया. जबकि क्रेता दुलार बरेठ का सरपंच द्वारा कराया तामिल नोटिस टिप नम्बर क्रमांक दो में स्पस्ट उल्लेख है की बिक्रेता उक्त जमीन संबंध में ग्राम पंचायत सकर्रा निवासी प्रमाणित हेतु कोई फारमेटरी सत्य के रूप में लाना सुनिश्चित करें. अथवा आपका दावा निरस्त माना जाऐगा. उक्त नोटिस में स्पस्ट उल्लेख है की बिक्रेता द्वारा उक्त जमीन का ग्राम के निवासी होने के संबंध में किसी प्रकार का दस्तावेज नही होने के कारण विक्रेता एवं उनके दो तीन समर्थक बैठक स्थल से उठकर भाग गयें. जिसके बाद आवेदिका मोंगरा बाई को उसके अपने जमीन को क्रास्तीकारी किया जाना कहा गया.


आगे भविष्य में गैर क़ानूनी तरीके से चोरी छिपे आदिवासी जमीन को गैर खरीददार दुलार बरेठ के परिवार द्वारा झगडा विवाद एवं नोकझोक करने पर संबंधित पुलिस थाना एवं तहसील कार्यालय का सहारा लेने का निर्णय लिया गया.