breaking news New

भाजपा के चिंतन के मंथन में निकले थूक से छत्तीसगढ़ हुआ शर्मसार, प्रदेश के जनादेश क़ा हुआ घोर अपमान - राजीव शर्मा

भाजपा के चिंतन के मंथन में निकले थूक से छत्तीसगढ़ हुआ शर्मसार, प्रदेश के जनादेश क़ा हुआ घोर अपमान - राजीव  शर्मा

 जिला अध्यक्ष राजीव शर्मा ने कहा कि 2018 में प्रदेश की जनता ने सिर्फ खखारा तो भाजपा 15 सीट से भी कम मे सिमट कर रह गई अगर थूकती तो ना जाने क्या होता....?

 शिष्टाचार व संस्कारो की बात करने वाली  भाजपा और उसके नेताओ ने किया प्रदेश की तीन करोड़ जनता का अपमान जिसकी देश मे होने लगीहर तरफ निंदा.

 प्रदेश की जनता इस कृत्य के लिये भाजपा को कभी नही करेगी माफ,डी पुरंदेश्वरी क़ा विषय से भटक कर स्तरहिन बयान ओछी राजनीति का परिचायक.

जगदलपुर। भाजपा की प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी के विवादित व आपतिजनक बयान पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया के साथ पलटवार करते हुए बस्तर जिला कांग्रेस कमेटी शहर अध्यक्ष राजीव शर्मा ने कहा कि महिला नेत्री को बस्तर की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी की धरती पर इस तरह की भाषाओं का प्रयोग बस्तर सहित प्रदेश की जनता का घोर अपमान है जिसकी जितनी भर्त्सना की  जाए वह भी कम है। श्री शर्मा ने कहा कि शिष्टाचार व संस्कारो की बात करने वाली भाजपा पहले अपने नेताओं को इससे बचने की नसीहत दे इस तरह के अमर्यादित, आपत्तिजनक भाषाओं का प्रयोग प्रदेश के लगभग तीन करोड़ जनता का अपमान है। एक महिला नेत्री को इस तरह की अमर्यादित भाषा शोभा नहीं देती। पंद्रह साल के भाजपा नेताओ की कारगुजारियो  को जानने के बाद छत्तीसगढ़ प्रभारी डी पुरंदेश्वरी की मानसिक स्थिति इतनी बिगड़ी हुई है़ की वे अब इस निम्नस्तर पर जाकर पर बयान देने लगी है़। ऐसी स्तरहीन बातें राष्ट्रीय पार्टी के पदाधिकारियों को बिल्कुल शोभा नहीं देती उन्हें ऐसी भाषाओं व शब्दों से परहेज करने की जरूरत है ।बस्तर सहित प्रदेश की जनता ऐसी शैलियों को बर्दाश्त नही करेगी ।

 भाजपा को  आत्मचिंतन करना चाहिए कि 15 साल तक सरकार के कुशासन से छत्तीसगढ़ की कितनी दुर्दशा हुई है़ ।श्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेस ने रमन सरकार की 15 साल की दमनकारी नीतियो के खिलाफ जनता के हक की लड़ाई लड़ी और छत्तीसगढ़ को भाजपा के कुशासन ,भ्रष्टाचार,एवं प्रशासनिक आतंकवाद से मुक्त कर खुशहाल छत्तीसगढ़ नवा- छत्तीसगढ़ का निर्माण किया है़ । भाजपा में गुटबाजी चरम सीमा पर है भाजपा के चिंतन शिविर में भी गुटबाजी की चरम सीमा की झलक देखने को मिली बस्तर में आयोजित चिंतन शिविर में  कई नेताओं और कार्यकर्ताओं को भी दूर रखा जाना बहुत से इशारों की ओर इंगित करता है़।

श्री शर्मा ने कहा कि भाजपा 15 साल सत्ता में रही औऱ सही मायने मे प्रदेश की जनता की चिंता करती तो आज चिंतन शिविर की नौबत ही नहीं आती 15 साल राज करने के बाद भाजपा 15 सीट से भी कम में ही सिमट गई जितना चाहे चिंतन शिविर कर ले कांग्रेस की भूपेश सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ेगा भूपेश सरकार बस्तर से लेकर सरगुजा तक सर्वागीण विकास के लिए प्रयासरत है जिससे प्रदेश की जनता  खुश है और खुलेआम कह रही है कि हमने एक अच्छी सरकार बनाई जो राज्य के सर्वागीण विकास के लिए मिल का पत्थर साबित हो रही है़।

श्री शर्मा ने भाजपा नेताओ को आड़े हाथ लेकर आक्रोश जताते हुए अपने अंदाज मे क़हा की बस्तर मे किये गये इस ओछे कृत्य को प्रदेश की जनता कभी माफ नही करेगी उन्हे इसका खमियाजा भी आने वाले समय मे भुगतना पड़ेगा। भाजपा नेता अपने पद और कद का आत्मसात कर मर्यादित भाषाओं का प्रयोग करें अगर आसमान मे थूकने की कोशिश करेंगे तो थूक कहाँ गिरेगा ये प्रदेश की जनता को बताने की आवश्यकता नही है़।