विदेशों में फंसे भारतीयों का स्वदेश लौटने का रास्ता अभी साफ नहीं

विदेशों में फंसे भारतीयों का स्वदेश  लौटने का रास्ता अभी साफ नहीं


नयी दिल्ली।  कोविड 19 की वैश्विक महामारी के बीच भारत से 48 देशों के करीब 35 हजार विदेशी नागरिकों को निकाला जा चुका है जबकि विश्व के 53 देशों में कोरोना विषाणु से संक्रमित 3336 लोगों तथा अन्य गैर संक्रमित हजारों भारतीयों के स्वदेश लौटने का रास्ता अभी तक साफ नहीं हुआ है।

सूत्रों ने आज यहां बताया कि कोविड 19 वैश्विक महामारी के कारण देशव्यापी लॉकडाउन के बाद से विदेश मंत्रालय ने गृह मंत्रालय, नागरिक उड्डयन मंत्रालय और राज्य सरकारों विशेष कर राज्य पुलिस बल की मदद से 48 देशों के करीब 35 हजार लोगों को स्वदेश भेजा है।

उन्होंने यह भी बताया कि विश्व के 53 देशों में 3336 भारतीय नागरिकों को कोरोना विषाणु से संक्रमित पाया गया है। इसके अलावा इस महामारी की चपेट में आकर 25 भारतीयों की विदेश में मौत भी हुई है। उन्होंने कहा कि जहां तक उनकी स्वदेश वापसी का सवाल है, उस बारे में अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है। हालांकि भारतीय मिशन इस बारे में संबंधित देशों की सरकारों के संपर्क में हैं।

chandra shekhar