breaking news New

किसान, मजदूरों के प्रति संवेदनशीलता और भ्रष्टाचार के प्रति सख्ती ही भूपेश दाऊ की पहचान - डॉ.चौलेश्वर चंद्राकर

किसान, मजदूरों के प्रति संवेदनशीलता और भ्रष्टाचार के प्रति सख्ती ही भूपेश दाऊ की पहचान - डॉ.चौलेश्वर चंद्राकर

 मंडी संशोधन विधेयक और न्यूनतम समर्थन मूल्य में धान खरीदी की अनिवार्यता के लिए सरकार का जताया आभार

सक्ती, 27 अक्टूबर। छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार द्वारा कैबिनेट के फैसलों के लिए कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ.चौलेश्वर चंद्राकर द्वारा कांग्रेस प्रवक्ता शिशिर द्विवेदी के माध्यम से प्रेस विज्ञप्ति जारी कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार जताते हुए कहा है कि केंद्र के भाजपा नीत मोदी सरकार द्वारा पारित कृषि बिल 2020 से छत्तीसगढ़ राज्य के किसान और मजदूरों को नुकसान से बचाव के लिए भूपेश कैबिनेट द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य व मंडी संशोधन विधेयक का मसौदा तैयार किया गया है जो विधानसभा के विशेष सत्र में पेश होकर कानून का रूप लेगा, साथ ही नवंबर माह में धान बोनस का तीसरा किश्त भी किसानों को दिया जाएगा, जो किसानों मजदूरों के प्रति सरकार की संवेनशीलता दर्शाता है। वहीं दूसरी ओर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के जल जीवन मिशन में विभाग की अनियमितता व नियमों को ताक में रखकर बंदरबांट की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए लगभग 13 हजार करोड़ का टेंडर रद्द करने का फैसला, भ्रष्टाचार पर सख्ती कर कार्य की पारदर्शिता का परिचय देता है। "जो कहा सो किया" और "गढ़बो नवा छत्तीसगढ़" के मंत्र का अक्षरशः पालन करते हुए जनकल्याण में लिए जा रहे फैसलों से लोग उत्साहित और आनंदित हैं। सभी क्षेत्रों के उन्नति के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अनेक कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। ज्ञात हो कि कांग्रेस संगठन द्वारा किसान हित में खाद बीज और कीटनाशक दवाइयों की गुणवत्ता और उपलब्धता के लिए सभी ब्लॉक स्तर पर पर्यवेक्षक बनाकर यथा स्थिति की जानकारी लेकर शासन और प्रशासन को अवगत कराया गया था। इसी कड़ी में कांग्रेस द्वारा दिनांक 31 अक्टूबर को सरदार वल्लभ भाई पटेल जी की जयंती और पूर्व प्रधानमंत्री प्रियदर्शिनी इंदिरा जी की शहादत दिवस को जिले के सभी ब्लॉक व नगर मुख्यालयों में "किसान अधिकार दिवस" के रूप में कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया गया है।