breaking news New

जनप्रतिनिधियो को कोस रही आम जनता-निखिल

जनप्रतिनिधियो को कोस रही आम जनता-निखिल

भानुप्रतापुर। विगत कुछ दिनों से राज्य शासन द्वारा लिए  जा रहे निर्णयों से मुझे ऐसे महसूस हो रहा है कि राज्य शासन भानुप्रतापपुर-अंतागढ़ क्षेत्र को मात्र  राजस्व आय के साधन के अतिरिक्त कुछ नहीं मानती और यहां के लोगों को मात्र जिल्लत एवम समस्या  वाली जिंदगी जीने विवश कर रही है और मुझे एह कहने मे ज़रा भी  संकोच नहीं हो रहा हैं कि क्षेत्र के हम सब जनप्रतिनिधि के निष्क्रियता का परिणाम है I उक्त विचार भाजपा यर्वामोर्चा  के पुर्व ज़िला अध्यक्ष निखिल सिंह राठौर  ने वक्त किए |

अपने विज्ञप्ति के माध्यम  से निखिल ने  बताया कि 15अगस्त को  चार  जिलो का  निर्माण और 17  अगस्त कोरावघाट क्षेत्र  के 53  गांव  नारायाणपुर जिला में शामिल किए  जाने की  खबर ने  क्षेत्र के  हर नागरिक के मन को झकझोर  कर रखदिया  है |  भानु  को जिला नही बनाये  जाने पर  क्षेत्र  की जनता का  कोई प्रतिक्रिया  नही  आना  यह  बताता है कि यहां के लोगों को शासन  से विश्वास  उठ  गया है  या  फीर  किसी तूफान के पुर्व  की  शान्ति है | जनप्रतिनिधी  साथियो  अगर हम  सब मिलकर भानुप्रतापपुर को जिला   नही बनवा  सकते तो हमे  उन 53  गांव के  भोले भाले  आदिवासी  भाईयो  को नारायाणपुर   मे समिलित होने से रोकने  का कोई अधिकार  नही बनता  जिन्हे  अपने छोटे-छोटे जिला स्तरीय समस्याओ  के  समाधान हेतु  लगभग 150  से 170  किलोमिटर तक दुरी  तय करनी पड़ती है। काकेर जिले  के  लाभ के लिये वो  क्यो यह दुरी  सफर करेगा | और वो दिन दुर  नही जब लोहतर सोनादहीं  जाड़ेकोर्से के लोगॊ  को  काकेर के बजाय  मानपुर-मोहला जिला  आसान लगने लगे और सोने का खान भी  हमारे हाथो  से निकल जाय.  मैं  पुनः अपने उस  बात  पर  आता हूं कि  सरकार भानुप्रतापपुर क्षेत्र को सिर्फ  चारागान  के  रूप मे  उपयोग  कर रही है  जिला स्तरीय  प्रशासन मात्र राजस्व आय  के लिये  काम कर  रहा  है  तो  दुर्ग  भिलाई     रायपुर धमतरी से  आकर  शासन के लोग  यहा  के  खदानों मे अपनी हिस्सेदारी बनाकर  स्थानिय लोगों का शोषण कर करोडो  रुपये समेटने मे लगे हुए हैं.

       इन सब  बातो को देखते हुए  हम सब  क्षेत्र के जनप्रतिनिधि  मिल  बैठ  कर     चर्चा करे और  भानु  को जिला  बनाने  ठोस कंदम  उठाए  नही तो  रावघाट  सोनादही  नहीं  बचा  पाएगे और क्षेत्र की  जनता  हमे कभी माफ  नही करेगी.