breaking news New

कुरूद में हुए दोहरे व अंधे हत्याकांड की जानकारी होने के बाद भी छिपाने वाले दो आरोपी गिरफ्तार

 कुरूद में हुए दोहरे व अंधे हत्याकांड की जानकारी होने के बाद भी छिपाने वाले दो आरोपी गिरफ्तार


मृतक दंपत्ति के घर से चुराए गए गहने को छिपाने के लिए आरोपी ने दिया था अपनी मां को 

धमतरी, 4 जून। कुरूद एफ.बी. टाउन में हुए दोहरे व अंधे हत्याकांड की जानकारी होने के बाद भी छिपाने वाले दो आरोपी गिरफ्तार । 22-23 मई की दरमियानी रात्रि कुरुद अंतर्गत एफ.बी. टाउन (श्री राम कॉलोनी) में चोरी करने के नीयत से शिक्षक दंपति के घर में घुसकर आरोपी राहुल दिली द्वारा तुलेस चंद्राकर व उसकी पत्नी सुमित्रा उर्फ सुमन चंद्राकर की धारदार चाकू, हंसिया तथा फर्शी पत्थर से उनके हाथ, गला, चेहरा एवं सिर में संघातिक चोट पहुंचाकर हत्या किए जाने का पूर्ण आधार एवं पर्याप्त सबूत पाए जाने पर मामले की हर पहलुओं पर बारीकी से जांच कर आरोपी राहुल दिली उम्र 24 वर्ष को विधिवत गिरफ्तार कर पुलिस रिमांड लिया गया। आरोपी से घटना के संबंध में विस्तृत पूछताछ और घटना के बाद के घटनाक्रम की जानकारी प्राप्त किया गया। अपराध से जुड़े अन्य साक्ष्य और समान की बरामदगी भी किया जाना था।


मामले में अन्वेषण के दौरान संकलित किए गए परिस्थिति जन्य व भौतिक साक्ष्यों एवं आरोपी राहुल दिली से पूछताछ में घटना कारित किए जाने की पूरी जानकारी मिली। मामले की सूक्ष्मता से जांच करते हुए घटना का पुनर्चित्रण भी कराया गया। जिससे आरोपी द्वारा घटना को किस प्रकार अंजाम दिया गया, ज्ञात हुआ। आरोपी राहुल दिली ने घटना के दौरान शिक्षक दंपति के घर से चुराए गए गहनों को छिपाने के लिए अपनी मां को दिया था तथा घटना के दूसरे दिन भागकर अपने ससुराल होते हुए मामा के घर गणेशपुर चला गया, जहां उसने वारदात की पूरी जानकारी अपने मामा टेकराम एवं मां प्रीति दिली को दी। 

घटना की पूरी जानकारी होने के बावजूद आरोपी राहुल दिली के मामा व मां के द्वारा घटना को छुपाकर आरोपी की छुपने एवं चुराए गए गहनों को छुपाने पूर्णरूपेण सहयोग करना पाया गया। जिसके आधार पर आरोपी के मामा के सकूनत ग्राम गणेशपुर में दबिश देकर हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया। साथ ही आरोपी की मां को भी अभिरक्षा में लेकर पूछताछ किया गया और अन्य चुराए गए जेवर के बारे में पूछताछ किया गया। दोनों ने घटना की पूरी जानकारी होना तथा राहुल दिली की छुपने में मदद करना बताया। साथ ही आरोपी की मां प्रीति दिली ने चोरी के गहने छिपाकर रखना स्वीकार किया। जिसके पेश करने पर 2 सोने का झुमका वजनी 15 ग्राम एवं एक चांदी की सांटी वजनी 94 ग्राम बरामद किया गया है। मामले में भादवि की धारा 460, 382, 201, 212, 414 जोड़ते हुए आरोपियों के अपराध स्वीकारोक्ति एवं उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर दोनों को गिरफ्तार कर वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। आरोपियों को न्यायिक रिमांड हेतु माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।