breaking news New

लोक कलाकारों को सरकार देगी अनुदान - मंत्री अमरजीत भगत

लोक कलाकारों को सरकार देगी अनुदान - मंत्री अमरजीत भगत


48 जरूरतमंदों को स्वेच्छानुदान राशि का चेक वितरित 

अम्बिकापुर, 5 फरवरी। छत्तीसगढ़ शासन के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण तथा संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत आज अम्बिकापुर जनपद के ग्राम नवानगर में आयोजित विकासखण्ड स्तरीय लोकनृत्य प्रतियोगिता में शामिल लोक नर्तकों को 2-2 हजार रूपए देने की घोषणा की। उन्होंने इस अवसर पर 48 जरूरतमंद हितग्राहियों को स्वेच्छानुदान राशि 10-10 हजार रूपए का चेक वितरित किया। 


 कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मंत्री  भगत ने कहा सरगुजा में करमा, शैला, सुआ जैसे पुरातन लोक नृत्य का प्रचलन है जिसे संरक्षित कर जीवंत करने की जरूरत है। इसके लिए संस्कृति विभाग की संस्था चिन्हारी के द्वारा छत्तीसगढ़ के लोक कलाकारों का पंजीयन किया जा रहा है। उन्होंने कहा चिन्हारी में पंजीकृत लोक कलाकारों को संस्कृति विभाग हर साल अनुदान देगी। यह अनुदान की राशि सीधे लोक कलाकारों के बैंक खाते में जमा की जाएगी। लोक कलाकारों के पंजीयन के लिए जिलों में संस्कृति विभाग द्वारा नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। जिन कलाकारों का नाम संस्कृति विभाग में दर्ज होगा उन्हें लोक कलाकार के नाम से जाना जाएगा। 


मंत्री श्री भगत ने कहा कि मैनपाट महोत्सव में स्थानीय लोक नर्तकों को अवसर देने के लिए इस वर्ष करमा, शैला और सुआ नृत्य का विकासखण्ड स्तरीय प्रतियोगिता रखा गया है। विकासखण्ड स्तर पर जो दल प्रथम स्थन पर आएगा उन्हें मैनपाट महोत्सव में मौका मिलेगा। इससे स्थानीय कलाकारों को मंच मिलने के साथ ही सरगुजा की लोक संस्कृति भी आगे बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि आदिवासी संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए पिछले वर्ष राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव की शुरूआत की गई जिसमें देश-विदेश के आदिवासी समुदाय के लोग शामिल होकर लोकनृत्य का प्रदर्शन किया। इस वर्ष कोरोना महामारी के कारण यह महोत्सव आयोजित नहीं हो पाया लेकिन आने वाले वर्ष में पुनः इसका आयोजन किया जाएगा।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ खाद्य आयोग के अध्यक्ष गुरप्रीत सिंह बाबरा, जिला पंचायत सदस्य अनिमा केरकेट्टा, जनपद सीईओ एसएन तिवारी, तहसीलदार भूषण मण्डावी सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी व कर्मचारी एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे।