breaking news New

ब्रेकिंग : हाईकोर्ट ने राज्य से जांच रिपोर्ट तलब की..बीजापुर जिले में एक चरवाहे की मुठभेड़ से मौत का मामला..पुलिस ने बताया था उसे नक्सली लेकिन साबित नही कर सकी!

ब्रेकिंग : हाईकोर्ट ने राज्य से जांच रिपोर्ट तलब की..बीजापुर जिले में एक चरवाहे की मुठभेड़ से मौत का मामला..पुलिस ने बताया था उसे नक्सली लेकिन साबित नही कर सकी!

रायपुर. छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय ने बीजापुर जिले के करका गांव में एक चरवाहे को नक्सली बताते हुए उससे हुई मुठभेड़ तथा मौत के मामले में चार सप्ताह के भीतर सरकार से जांच रिपोर्ट मांगी है.

मृतक की मां सोदमी मडकाम ने अधिवक्ता योगेश्वर शर्मा के माध्यम से उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है और दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर मामले की सीबीआई जांच की मांग की है.

मामले की प्रारंभिक सुनवाई के बाद न्यायमूर्ति नरेंद्र कुमार व्यास की पीठ ने राज्य सरकार को नोटिस जारी कर चार सप्ताह के भीतर सरकार से जांच रिपोर्ट मांगी है.

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बीजापुर जिले के करका गांव में चार चरवाहे गाय चराने गए थे. आरोप है कि पुलिस ने जानबूझकर उन चार चरवाहों पर गोलियां चलाईं जिनमें समरू मडकाम की मौके पर ही मौत हो गई. एक के पैर में गोली लगी जबकि दूसरा मौके से फरार हो गया। पुलिस ने समरू को नक्सली बताया है.