breaking news New

ब्रेकिंग : ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के एकाउंट को फेक माना..उनके पर्सनल अकाउंट से हटाया 'ब्लू टिक..मचा बवाल..काफी समय से निष्क्रिय रहा है उपराष्ट्रपति का एकाउंट

ब्रेकिंग : ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के एकाउंट को फेक माना..उनके पर्सनल अकाउंट से हटाया 'ब्लू टिक..मचा बवाल..काफी समय से निष्क्रिय रहा है उपराष्ट्रपति का एकाउंट

जनधारा समाचार
नयी दिल्ली. सोशल मीडिया साइट ट्विटर ने उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू के पसर्नल अकाउंट से ब्लू वेरिफाइड बैज हटा लिया है. इसकी जानकारी उपराष्ट्रपति के कार्यालय ने दी है. ट्विटर जिन लोगों को अकाउंट वेरिफाइड होता है उनके अकाउंट नाम के बाद एक ब्लू टिक नजर आता है. यह ब्लू टिक इस बात का प्रमाण होता है कि यह अकाउंट वेरिफाइड है. इससे फेक अकाउंट और असली अकाउंट में अंतर करना आसान हो जाता है.

पिछले महीने ही सोशल माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने कहा था कि जो भी लोग अपना अकाउंट वैरिफाइ करना चाहते हैं वे वेरिफिकेशन एप्लिकेशन प्रॉसेस से जुड़ सकते हैं. ट्विटर ने यह भी कहा था कि जो अकाउंट काफी ज्यादा समय से निष्क्रिय हैं उनका ब्लू टिक हटा दिया जायेगा. जिन अकाउंट की जानकारियां अधूरी हैं उनका भी ब्लू टिक हटाया जायेगा.

बता दें कि उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के पर्सनल ट्विटर अकाउंट पर 1.3 मिलियन फॉलोवर हैं. उन्होंने आखिरी ट्वीट 23 जुलाई 2020 को किया था. ट्विटर पर वेंकैया नायडू का अकाउंट अगस्त 2013 से है. नायडू उपराष्ट्रपति बनने से पहले भाजपा के बड़े प्रभावी नेता के रूप में जाने जाते थे. वे मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में केंद्रीय मंत्री भी रहे. पक्ष विपक्ष दोनों इनका बड़ा आदर करते हैं.

केंद्र सरकार की निजता को लेकर नयी नीतियों के उल्लंघन का ट्विटर पर आरोप लग रहा है. सरकार ने कहा कि सभी सोशल साइट्स सरकार के फैसले को मानने के लिए तैयार है, केवल ट्विटर इस फैसले को मानने से इनकार कर रहा है. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कुछ दिनों पहले स्पष्ट कहा था कि अगर भारत में काम करना है तो सरकार के फैसले का मानना ही होगा.

ट्विटर ने पिछले महीने ही आम लोगों के लिए भी अकाउंट वेरिफिकेशन प्रॉसेस शुरू कर दिया है. इसके तहत कोई भी अपना अकाउंट वेरिफाई करवा सकता है और ब्लू टिक प्राप्त कर सकता है. इससे पहले कंपनी ने 2017 में ऐसी योजना बनायी थी, लेकिन कुछ कारणों से इसे उस समय सस्पेंड कर दिया गया था. अब फिर से यह फीचर आने वाले समय में लोगों के लिए शुरू किया जायेगा.