breaking news New

खुशखबरी : दो वैक्सीन को एक साथ मंजूरी देने वाला दुनिया का पहला देश बना भारत, पीएम मोदी ने दी बधाई

खुशखबरी : दो वैक्सीन को एक साथ मंजूरी देने वाला दुनिया का पहला देश बना भारत, पीएम मोदी ने दी बधाई

मुंबई. भारत के दवा महानियंत्रक यानी डीसीजीआई वीजी सोमानी ने दो स्वदेशी कोविड-19 वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग के लिए रविवार को मंजूरी दे दी. डीसीजीआई ने बताया कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की 'कोविशिल्ड' और भारत बायोटेक की 'कोवैक्सीन' को एक साथ मंजूरी दी गयी है. इसके साथ ही भारत दुनिया का पहला ऐसा देश हो गया है, जिसने एक साथ दो वैक्सीन को मंजूरी दी है.

भारत के दवा महानियंत्रक वीजी सोमानी ने बताया कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बॉयोटेक की वैक्सीन को दो से आठ डिग्री तापमान पर रखा जा सकता है. दोनों वैक्सीन को आपातकालीन स्थिति में प्रतिबंधित उपयोग के लिए अनुमति दी जाती है.

उन्होंने कहा कि एक और दो जनवरी को केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन की विषय विशेषज्ञ समिति सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, भारत बायोटेक और तीसरे चरण के कैडिला हेल्थकेयर लिमिटेड के क्लिनिकल ट्रायल को लेकर मिले और कोविड-19 वैक्सीन के प्रतिबंधित आपातकालीन अनुमोदन के प्रस्ताव के संबंध में सिफारिशें की.

भारत के दवा महानियंत्रक वीजी सोमानी ने बताया कि विषय विशेषज्ञ समिति में पल्मोनोलॉजी, इम्यूनोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, फार्माकोलॉजी, पीडियाट्रिक्स, इंटरनल मेडिसिन आदि के क्षेत्र से जुड़े डोमेन विशेषज्ञ होते हैं.

दोनों स्वदेशी वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग को मंजूरी मिलने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्वीट कर भारतीय वैज्ञानिकों को बधाई दी. साथ ही चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों, वैज्ञानिकों, पुलिसकर्मियों और स्वच्छताकर्मियों समेत कोरोना योद्धाओं के प्रति आभार जताया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 'एक उत्साही लड़ाई को मजबूत करने के लिए एक निर्णायक मोड़! डीसीजीआई ने भारत के सीरम संस्थान और भारत बायोटेक के टीकों को स्वीकृति प्रदान करते हुए स्वस्थ और कोविड मुक्त देश के लिए मार्ग प्रशस्त किया है. भारत को बधाई. हमारे मेहनती वैज्ञानिकों और नवप्रवर्तनकर्ताओं को बधाई.'