breaking news New

कन्वेयर बेल्ट से गिर रहा कोयला का डस्ट, बढ़ी प्रदूषण की समस्या

कन्वेयर बेल्ट से गिर रहा कोयला का डस्ट, बढ़ी प्रदूषण की समस्या

कोरबा । दरी क्षेत्र में रहने वाले निवासियों को पिछले कुछ दिनों से वायु प्रदूषण की समस्या से जूझना पड़ रहा है।
सीएसईबी की विद्युत परियोजना को कोयला सप्लाई करने वाली कन्वेयर बेल्ट लाइन से गिरने वाला डस्ट समस्या का मुख्य कारण बना हुआ है।     नागरिक बताते हैं कि इसके चलते उनके घर और वहां पर रखे सामानों में धूल की परत जम रही है। कोरोना संक्रमण काल में नई समस्या से लोग काफी परेशान हैं। वर्तमान में क्षेत्र में छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत उत्पादन कंपनी के दो बिजलीघर संचालित हो रहे हैं इनमें से एक की क्षमता 840 मेगावाट की है और दूसरी परियोजना 500 मेगावाट की है पुरानी परियोजना का निर्माण मध्यप्रदेश के समय किया गया था जबकि नई परियोजना विस्तार की कड़ी में लगभग एक दशक पहले तैयार हुई है सीएसईबी प्रबंधन ने अपनी परियोजनाओं को पर्याप्त कोयला उपलब्ध कराने के लिए एसईसीएल से अनुबंध कर रखा है इसके अंतर्गत कुसमुंडा तक के लिए अधिकतम ऊंचाई वाली कन्वेयर बेल्ट लाइन प्रणाली विकसित की गई है 24 घंटे इस प्रणाली से कोयला दर्री तक पहुंचता है बताया गया कि मुख्य मार्ग पर बेल्ट चलने के दौरान ऊपर से कोयला का डस्ट नीचे गिरता है इसके अलावा हवा के संपर्क में आने के साथ बहुत बड़ी दूरी तक लोगों के घरों में पहुंच जाता है लोग बता रहे हैं कि पिछले 5 दिन से इस तरह की समस्या कुछ ज्यादा ही बनी हुई है  .