breaking news New

प्रदेश में कानून व्यवस्था का मुद्दा भाजपा सदस्यों ने जोरशोर से उठाया

 प्रदेश में कानून व्यवस्था का मुद्दा भाजपा सदस्यों ने जोरशोर से उठाया

रायपुर । मानसून सत्र के चौथे दिन छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज भाजपा सदस्यों ने प्रदेश में कानून व्यवस्था के कारण बढ़ते अपराधों का मामला जोरशोर से उठाया। इस मुद्दे पर भाजपा ने स्थगन प्रस्ताव लाकर सारे काम रोककर चर्चा कराये जाने की मांग की पर आसंदी द्वारा स्थगन प्रस्ताव अस्वीकार करने पर भाजपा सदस्यों ने सदन से बहिर्गमन कियाा।
शून्यकाल में आज भाजपा सदस्यों ने कानून व्यवस्था पर स्थगन प्रस्ताव लाया। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि कानून व्यवस्था गिर रही है। अपराध पहले भी होते थे, लेकिन अब हालात बिगड़ गये हैं. तीन-चार लोगों चाकू से एक युवक को गोदते हैं, मार डालते हैं, उसका वीडियो बनाकर वायरल किया जाता है, आखिर अपराधियों का मनोबल इतना कैसे बढ़ गया? डीजीपी कह रहे हैं तम्बू लगाकर जुआं खिलाया जा रहा है। ये पूरे प्रदेश की घटना है।
उन्होंने कहा कि पंजाब, नार्थ ईस्ट, झारखंड की शराब छत्तीसगढ़ में बिक रही है, क्या छत्तीसगढ़ शराब की मंडी बन गया है? गांजा तस्करी का प्रवेश द्वार महासमुंद जिला बन गया है। अवैध नशे का कारोबार फल-फूल रहा है. हर रोज लूट, डकैती, अनाचार की घटनायें बढ़ रही है।    भाजपा विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि शांति का टापू छत्तीसगढ़ अब अपराध गढ़ में बदल गया है। राज्य में कोई सुरक्षित नहीं है. अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री प्यारेलाल कँवर के परिवार के तीन सदस्यों तक की हत्या हो गई। मंत्री अनिला भेडिय़ा के रिश्तेदार की हत्या हो गई। राज्य में 8 हजार से ज्यादा चोरी, चार हजार से ज़्यादा बलात्कार की घटना हुई है, हत्या और डकैती के मामले बढ़े हैं। सरकार बढ़ते अपराध को रोकने में असफल रही है। इसकी जड़ में नशा है।
भाजपा विधायक नारायण चंदेल ने कहा कि जांजगीर चांपा में रेत माफियाओं ने तहसीलदार पर हाइवा चढ़ा दिया। अजय चंद्राकर कि सवाल इस बात का है कि ऐसी घटनाएं बढ़ क्यूं रही है? अगले जन्म में मैं बागबहरा का टीआई बनना पसंद करूंगा। यहां का टीआई तय करता है कि पकड़ाये गए नशे का कितना सामान दिखाना है कितना नहीं? रायगढ़ में माब लिंचिंग की घटना हुई, राज्य में हमने कभी ये नहीं सुना था। उन्होंने कहा कि सायबर ठगी का मुख्यालय छत्तीसगढ़ बन रहा है. राष्ट्रीय औसत से ज़्यादा हत्या और बलात्कार राज्य में हो रहे है।
भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल कहा कि यहां रेत माफिया, भू मफिया, शराब माफिया, खाद बीज माफिया क्यूं बढ़ रहे हैं। हर रोज शराब पकड़ाने की खबर अखबारो में पढ़ते हैं, ऐसा लगने लगा है यहां धान की नहीं शराब की खेती हो रही है। राज्य में दस हजार से ज़्यादा लोगों ने आत्महत्या की है। आखिर क्यूं राज्य में लोग अवसादग्रस्त हो रहे हैं।
भाजपा सदस्य श्रीमती रंजना साहू ने कहा कि कानून व्यवस्था की जि़म्मेदारी राज्य सरकार की है लेकिन सरकार इसमें फेल होती नजर आ रही है। हर रोज चोरी, डकैती की घटनाएं बढ़ी है, महिलायें सुरक्षित नहीं हैं। बलात्कार के आरोपी खुले घूम रहे हैं। स्थगन प्रस्ताव पर अपनी बातें रखने के बाद सभी भाजपा सदस्यों ने आसंदी से आग्रह किया कि यह बहुत गंभीर विषय है इसलिए बाकी सारे काम रोककर तत्काल इस विषय पर सदन में चर्चा कराई जाए, लेकिन आसंदी ने स्थगन प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया, जिसके बाद भाजपा सदस्यों ने हंगामा करते हुए सदन से बहिर्गमन कर दिया।