कोविड संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए जिला प्रशासन गंभीर, नियमित पेट्रोलिंग और सुरक्षाबल तैनात किए गए

कोविड संक्रमित मरीजों के उपचार के लिए जिला प्रशासन गंभीर, नियमित पेट्रोलिंग और सुरक्षाबल तैनात किए गए

सक्ती  जांजगीर-चांपा, 29 सितंबर। कलेक्टर यशवंत कुमार के मार्गनिर्देशन में जिला कोविड अस्पताल एवं 10 कोविड केयर और आइसोलेशन सेंटर्स  में मरीजों के नियमित स्वास्थ्य परीक्षण, गुणवत्तायुक्त पौष्टिक भोजन, पेयजल और साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था की गयी है। सभी कोविड केयर सेंटर्स  में 24 घंटे तीन पालियों में चिकित्सा अधिकारी, स्टाफ नर्स, वार्ड ब्वाय की डियूटी लगाई है। इसके अलावा स्वच्छता, पेयजल व्यवस्था, विद्युत व्यवस्था के लिए भी संबंधित विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को जिम्मेदारी दी गयी है। पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर के मार्गनिर्देशन में  कोविड केयर सेंटर्स की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए नियमित पेट्रोलिंग की और सुरक्षाबल तैनात किए गए हैं।

2,539 मरीज पूर्ण रूप से स्वस्थ

जिला स्वास्थ्य समिति जांजगीर-चांपा जिल कंट्रोल एण्ड कमाण्ड सेंटर से 28 सितंबर की रात्रि 08 बजे जारी प्रेस नोट के अनुसार आरटीपीसीआर, ट्रुनाट, रैपिडएंटीजन, रैपिडआरटी किट  के द्वारा अबतक कुल 47429 लोगो की कोरोना संक्रमण की जांच की गई है। जांच में 4,504 मरीजो को कोरोना संक्रमित के रूप में चिन्हांकित कर समुचित उपचार की व्यवस्था की गयी। चिन्हांकित किए गए सक्रमित मरीजों में से 2,539 मरीज पूर्ण रूप से स्वस्थ हो चुके हैं। 

मरीजों की निगरानी के लिए रक्षा एप उपयोगी

लक्षण रहित कोरोना संक्रमित मरीजों को होम आइसोलेशन के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।  होम आइसोलेशन की अनुमति आसानी से दी जा रही है। इन मरीजों की निगरानी के लिए पुलिस विभाग द्वारा तैयार किया गया रक्षा एप का उपयोग किया जा रहा है। होम आइसोलेशन के मरीजो की सूची पुलिस विभाग को प्रतिदिन उपलब्ध करायी जा रही है। सूची के अनुसार मरीजों के मोबाईल फोन पर यह एप डाउन लोड करवाया जा रहा है।  होम आइसोलेशन की अवधि पूरी होते ही मरीजों को आइसोलेशन से मुक्त करने के निर्देश दिए गए हैं।  कोविड जांच सेंटर में पाजीटीव आए लक्षण रहित मरीजों को तत्काल दवाई कीट उपलब्ध कराते हुए होम आइसोलेशन के निर्देशो के साथ परामर्श भी दिया जा रहा है। मरीज के पास-पड़ोस के लोगो को सचेत व सावधानी के लिए मरीजों के घर के सामने स्टीकर लगाने के निर्देश दिए गए हैं। 

कर्मचारियों की  सुरक्षा का पूूरा ध्यान

चिकित्सक, स्वच्छता कामगार, मेडिकल स्टाफ एवं कोविड केयर सेंटर्स में सेवा दे रहे कर्मचारियो की  सुरक्षा का पूूरा ध्यान रखा जा रहा है। उन्हें सुरक्षा उपकरण जैसे पीपीई किट मास्क, ग्लब्स, सेनेटाइजर आदि उपलब्ध करवायी जा रही है। जिससे वे स्वयं की सुरक्षा के लिए सुनिश्चित होकर निर्भयता एवं  सावधानी से काम कर सके। 

जिले में 1 कोविड अस्पताल और 10 कोविड केयर सेंटर्स

जिले में कोविड अस्पताल और 10 कोविड केयर सेंटर्स में कुल 1098 बेड की व्यवस्था की गयी है। इन सेंटर्स में चिकित्सा अधिकारी, स्टाफ नर्स, वार्ड ब्वाय की डियूटी लगाई है। इसके अलावा स्वच्छता, पेयजल व्यवस्था, विद्युत व्यवस्था के लिए भी संबंधित विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को जिम्मेदारी दी गयी है। जिला कोविड अस्पताल, दिव्यांग स्कूल भवन औरा आकांक्षा परिसर में बनाए कोविड केयर सेंटर में आक्सीजन बेड की सुविधा भी उपलब्धर करवाई गयी है।