breaking news New

बच्चों की समझ कौशल हो रही बेहतर : यूनिसेफ एवं लैंग्वेज लर्निंग फाउंडेशन के सहयोग से किया जा रहा बहुभाषीय शिक्षण का कार्य

बच्चों की समझ कौशल हो रही बेहतर : यूनिसेफ एवं लैंग्वेज लर्निंग फाउंडेशन के सहयोग से किया जा रहा बहुभाषीय शिक्षण का कार्य


सुकमा -जिला समग्र शिक्षा सुकमा की अगुवाई में यूनिसेफ एवं लैंग्वेज लर्निंग फाउंडेशन के सहयोग से विकासखंड छिंदगढ़ के 25 चयनित प्राथमिक शालाओ में मई 2021 से बहुभाषा शिक्षण का कार्य किया जा रहा है। इसी तारतम्य में पुसपाल संकुल अंतर्गत प्रा.शा.पुसपाल में आगामी कार्ययोजना पर चर्चा की गई। 

ज्ञात हो कि आदिवासी अंचलों में स्थानीय बोली/भाषा ही बच्चों की प्राथमिक भाषा होती है। हिन्दी भाषा में अघ्ययन कराने पर बच्चों को पाठ समझने में दिक्कत आती थी, जिसे दूर कर बच्चों की समझ को बढ़ाने के उद्देश्य से प्राथमिक स्तर के छात्रों को हिन्दी के साथ ही स्थानीय बोली में पढ़ाया जा रहा है।

बहुभाषीय प्रशिक्षण के पश्चात् बच्चों में समझा कौशल का विकास हुआ है। वे पाठ को बेहतर ढंग से समझ कर उपयुक्त जवाब देने में भी सक्षम हुए हैं। इसके साथ ही शालाओं में छात्रों की संख्या में भी वृद्धि दर्ज की गई।


इस दौरान लैंग्वेज एन्ड लर्निंग फाउंडेशन एम.एल.ई.कोर्डिनेट  शसीमा सिंह, डाक्यूमेंट ऑफिसर  प्रिय अनुज चौधरी,  सीताराम सिंह राणा समग्र शिक्षा कार्यालय सुकमा, सहित संकुल समन्वयक शंकर कश्यप, विजय यादव,  असदेव कंवर प्रधान अध्यापक पुसपा, भारत साहू खन्ड समन्वयक छिंदगढ़  उपस्थित रहे।