breaking news New

उत्तर- दक्षिण छत्तीसगढ़ का चंदखुरी में 17 दिसम्बर को होगा मिलन

 उत्तर- दक्षिण छत्तीसगढ़ का चंदखुरी में 17 दिसम्बर को होगा मिलन


वृक्ष रोपकर मनाया जाएगा दो वर्ष पूरे होने का उत्सव


राम वन गमन परिपथ में पर्यटन रथ तथा बाइक रैली का आयोजन 14 से 17 दिसम्बर तक

रायपुर, 05 दिसम्बर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य में नई सरकार के 2 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर राज्य के ऐतिहासिक तथा सांस्कृतिक धरोहर राम वन गमन परिपथ में 14 दिसम्बर से 17 दिसम्बर तक पर्यटन रथ तथा बाइक रैली का आयोजन किया जा रहा है। यह रथ और रैली राज्य के उत्तर स्थित -सीतामढ़ी हरचैका जिला कोरिया तथा दक्षिण में स्थित-रामराम जिला सुकमा दोनों छोर से 14 दिसंबर को प्रारंभ होगी जो विभिन्न गतंव्य स्थलों से होते हुए 17 दिसंबर को चंदखुरी में सामाप्त होगी। यह रैली चिन्हांकित पर्यटन स्थलों से एकत्र की गई मिट्टी तथा प्रतीक चिन्ह को साथ लेकर चंदखुरी में 17 दिसम्बर को दोपहर 1.30 बजे पहुेगी जहां भव्य कार्यक्रम के आयोजन के साथ इस मिट्टी से चंदखुरी में वृक्षारोपण किया जाएगा तथा यात्रा उपरांत प्रतीक चिन्ह को मुख्य अतिथि को सौंपा जाएगा।

राज्य में 14 दिसम्बर को सीतामढ़ी हरचैका जिला कोरिया तथा रामाराम जिला सुकमा के दोनों छोरों से शुरू होने पर्यटन रथ और बाईक रैली में रामायण पुस्तक, प्रतीक चिन्ह लेकर पर्यटन रथ न्यूनतम 30 बाईक के साथ होर्डिंग्स और वाहन साउण्ड सिस्टम सहित रैली निकाली जाएगी। जिसमें भगवान श्रीराम के अध्यात्मिक भजन तथा चैपाईयां चलाई जाएगी। जिला प्रशासन द्वारा स्थानीय विधायकों तथा स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ सीतामढ़ी हरचैका और रामाराम से झण्डा दिखाकर रथयात्रा की रवानगी की जाएगी। प्रतीक चिन्ह (मशाल, रामायण पुस्तक, ध्वज) को संबंधित जिला बाइकिंग समूहों को पूर्ववर्ती जिला बाइकिंग समूह को जिला प्रशासन के नेतृत्व में सौंपा जाएगा। 

प्रत्येक जिला के एक सीमा से दूसरे सीमा तक अलग-अलग बाइक समूह होंगे । इसमें गणमान्य नागरिकों तथा जनप्रतिनिधियों द्वारा वाहनों को झण्डा दिखाकर रवाना किया जाएगा। रैली केवल दिन के सूर्यास्त तक आयोजित की जाएगी। रैली को उस स्थान से जारी रखा जाएगा जहां रैली पिछले दिन समाप्त हुई थी। पथ का अनुसरण प्रस्तावित राम वन गमन परिपथ सर्किट के नक्शा के अनुसार किया जाएगा। बाइक रैली जहां-जहां पहुंचेगी वहां पर फूलों की वर्षा कर स्वागत किया जाएगा तथा राम पाठ का आयोजन भी किया जाएगा।