breaking news New

फिर से गुलजार हो रहा है कठपुतली व्यवसाय

फिर से गुलजार हो रहा है कठपुतली व्यवसाय

जैसलमेर।  राजस्थान में विश्वविख्यात पर्यटन स्थल जैसलमेर में कोरोनाकाल में सैलानियों की आवक थमने से बंद पड़ा कठपुतली व्यवसाय फिर से गुलजार होने लगा है।
कोरोना के चलते कठपुतली व्यवसाय भी करीब ठप हो गया था और कठपुतली का प्रदर्शन करने वाले एवं कठपुतली बनाने वाले कालाकारों की कठपुतलियां खामोश हो गयी थी। इसके चलते कठपुतली बनाने वाले कारीगर भी बेरोजगार हो गए थे।
एक निजी संस्था जयपुरी सामान ग्रुप की सी.ई.ओ. मनीषा पाण्डे द्वारा इस संबंध में अनूठी पहल करते हुए कठपुतली बनाने वाले इन कारीगरों की व्यथा को समझा एवं कठपुतलियों की ऑनलाईन बिक्री में मदद कराई। इसके कारण पिछले कुछ समय में कठपुतलियों की ऑनलाईन बिक्री में भी काफी बढ़ोत्तरी हो गई।
इसी संदर्भ में जैसलमेर शहर में स्थानीय मलका प्रोल क्षेत्र में आयोजित शादी समारोह में जयपुरी सामान ग्रुप की सीईओ मनीषा पाण्डे ने मुकेश भाट, किशोर भाट, नरपत भाट एवं अन्य कठपुतली कलाकारों के समूह को कोरोना काल के बाद उनकी पहली कमाई का चेक सौंपा। श्रीमती पाण्डे ने इन कलाकारों की कला प्रतिभाओं की सराहना की और इसी प्रकार कठपुतली सृजन के लिए प्रेरित किया।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जयपुरी सामान कठपुतली विधा के विकास तथा इससे जुड़े कलाकारों को प्रोत्साहन तथा आर्थिक विकास की दिशा में प्रयास करते हुए उनकी बनी कठपुतलियों को देश दुनिया तक पहुंचाएगा। इसके लिए ऑनलाईन व्यवसाय के माध्यम से क्रय-विक्रय को बढ़ावा दिया जाएगा। इससे जो भी पैसा आएगा उससे इन कठपुतली बनाने वालों को आर्थिक सम्बल प्राप्त होगा।
मनीषा पांडे ने बताया कि जैसलमेर में कठपुतली बनाने वालों की इस कोरोनाकाल मे बहुत बुरी हालात थी। चूंकि जैसलमेर में सैलानियों की आवक न के बराबर रह गई थी, इसलिए इनकी कठपुतली कोई खरीदने नहीं आ रहा था। जिससे इनका घर चलाना मुश्किल हो गया है। ऐसे में हमने नगर परिषद आयुक्त शशिकांत शर्मा से विचार-विमर्श करके ऑनलाइन के माध्यम से 12 महीने इनके हाथों से बनी कठपुतलियां बेचने और इनकी कला को देश दुनिया में पहुंचाने का बीड़ा उठाया। ऑनलाइन इनकी कठपुतलियों का प्रचार किया तो लोगों ने इसको बहुत सराहा भी।
उन्होंने बताया कि मुकेश भाट की बनाई कठपुतलियों को लोगों ने हाथों-हाथ लिया और इसे खरीदने का उत्साह दिखाया। हमने उसकी पहली ऑनलाइन की कमाई का चेक मुकेश को सौंपा।
इस मौके पर कठपुतली बनाने वाले कलाकार मुकेश भट्ट ने भावुक होकर कहा कि आज उसको बहुत खुशी है कि उसके हाथों की बनाई कठपुतलियां देश-दुनिया मे ऑनलाइन बिक रही हैं, जिससे उसके परिवार को इस कोरोनाकाल मे बहुत बड़ा सहारा मिला है। हम बहुत सारे कलाकार जयपुरी सामान और उनकी सीईओ श्रीमती मनीषा पांडे को धन्यवाद देते हैं। और हम आगे भी बढ़-चढ़ कर कठपुतली बनाएंगे ताकि ऑफ सीजन में हमको बेरोजगारी का सामना नहीं करना पड़े।