breaking news New

धूमधाम से मनाई गई संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की 131 वीं जयंती

धूमधाम से मनाई गई संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की 131 वीं  जयंती

चांपा।  नगर के वार्ड नं, 16 ठाकुर दिया चौक पर डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर पार्षद कामेशवर धर्य ने माल्यार्पण किया और कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहां 

14 अप्रैल को बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती मनाई जाती है इस दिन साल 1891 को मध्य प्रदेश के महू के एक गांव में भीमराव अंबेडकर का जन्म हुआ था। बचपन से ही उन्हें आर्थिक और सामाजिक भेदभाव का सामना करना पड़ा।

स्कूल में छुआछूत और जाति-पाति का भेदभाव झेलना पड़ा। विषम परिस्थितियों के बाद भी अंबेडकर ने अपनी पढ़ाई पूरी की। ये उनकी काबलियत और मेहनत का ही परिणाम है कि अंबेडकर ने 32 डिग्री हासिल की। विदेश से डॉक्टरेट की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद भारत में दलित समाज के उत्थान के लिए काम करना शुरू किया।

संविधान सभा के अध्यक्ष बने और आजादी के बाद भारत के संविधान के निर्माण में अभूतपूर्व योगदान दिया। जीवन के हर पड़ाव पर संघर्षों को पार करते हुए उनकी सफलता हर किसी के लिए प्रेरणा है। बाबा साहेब की जयंती के मौके पर उनके अनमोल विचारों को जानकर अपने जीवन में उतारने चाहिए, तत्पश्चात ठाकुरदिया चौक से रैली निकाला गया और संविधान निर्माता बाबा साहब के बताए मार्गो एवं विचारों पर चलने की संदेश दिए, कार्यक्रम में महेत्तर पाटले, गोरेलाल धैर्य, विरेंद्र कुर्रे, पुष्पेंद्र कुर्रे, जय सेवायक, सोनू पटेल, भरत यादव,दकेशवर, मनीष धैर्य, अंकुर धैर्य, घुराऊ धैर्य, रामकुमार पाटले, जितेंद्र पटेल,सहित वार्ड वार्ड वासी भारी संख्या में उपस्थित रहे।