breaking news New

15 से 18 वर्ष के बच्चों का 3 जनवरी से कोविड टीकाकरण, स्कूलों में शिविरों के माध्यम से लगाए जाएंगे टीके

15 से 18 वर्ष के बच्चों का 3 जनवरी से कोविड टीकाकरण, स्कूलों में  शिविरों के माध्यम से लगाए जाएंगे टीके

  सक्ती।  कोरोना से बचाव के लिए 15 से 18 वर्ष के हितग्राहियों को 3 जनवरी सोमवार से कोविड के टीके लगाए जाएंगे। 15 से 18 आयु वर्ग के विद्यार्थियों  के टीकाकरण के लिए हायर सेकेण्डरी स्कूलों में शिविर  आयोजित किए जाएंगे।  शिविर में 18 साल से अधिक आयु के हितग्राही भी प्रथम और द्वितीय खुराक का टीकाकरण करवा सकेंगे। 

       कलेक्टर जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने 3 जनवरी सोमवार से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान का  व्यापक प्रचार-प्रसार  के निर्देश दिए हैं। जांजगीर-चांपा जिले में लगभग 1,04,165 किशोर-किशोरियों को कोविड से सुरक्षा के टीके लगाए जाएंगे। किशोर-किशोरियों के लिए केवल को-वैक्सीन टीके का ही विकल्प रहेगा। 

फ्रंटलाइन वर्कर्स और गंभीर बीमारियों से पीड़ित 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को तीसरी खुराक का टीकाकरण 10 जनवरी से -

     स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और गंभीर बीमारी जैसे हार्ट डिसीज़, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, बोन मैरो ट्रांसप्लांटेशन, किडनी डिसीज़, हीमोडायलिसिस, कैंसर, सिकलसेल, एचआईवी एवं अन्य गंभीर बीमारियों से पीड़ित 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को 10 जनवरी से कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक दी जाएगी।

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशानुसार स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और गंभीर बीमारियों से पीड़ित 60 वर्ष से अधिक के लोगों को 10 जनवरी से कोरोना वैक्सीन की तीसरी खुराक (प्रीकॉशन डोज) दी जाएगी। इस वर्ग के ऐसे लोग जिन्हें दूसरी खुराक लिए नौ महीने या 39 सप्ताह पूरे हो चुके हैं, उन्हें तीसरी खुराक दी जाएगी।