breaking news New

करोडी लूट का खुलासा, तीन बदमाश सहित सात गिरफ्तार, मास्टर माइंड पर एक लाख का इनाम घोषित

 करोडी लूट का खुलासा, तीन बदमाश सहित सात गिरफ्तार, मास्टर माइंड पर एक लाख का इनाम घोषित

मथुरा । जनपद में अब तक की हुई सबसे बडी लूट की घटना का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। हालांकि अब भी घटना का मुख्य आरोपी अरविंद फरार है। एडीजी ने फरार घटना के मास्टर माइंड अरविंद पर एक लाख रूपये का इनाम घोषित किया है। जनपद में हुई अब तक की सबसे बडी लूट का खुलासा करने वाली टीमों को एडीजी ने एक लाख रूपये का इनाम देने की घोषणा की। 10 दिन पहले कोतवाली क्षेत्र की बाग बहादुर पुलिस चौकी के पास एक करोड़ पांच लाख रुपये की हुई लूट के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। 16 अगस्त की सुबह करीब साढे दस बजे लूट की घटना को बदमाशों ने अंजाम दिया था। पुलिस ने सात बदमाशों को गिरफ्तार कर 44.86 लाख रुपए बरामद कर लिए हैं। दो बदमाश अब भी फरार हैं। अपर पुलिस महानिदेशक राजीव कृष्ण खुद घटना के खुलासे की प्रेस कानफ्रेंस करने के लिए गुरुवार को मथुरा पहुंचे। 16 अगस्त को सुबह थाना कोतवाली क्षेत्रान्तर्गत अंकित बंसल पुत्र अजय बंसल निवासी गोकुल रेस्टोरेंट के पास थाना गोविन्दनगर जो स्कूटी पर अपने रिश्तेदार बुलियन कारोबारी मुकुल बंसल के व्यापार से सम्बन्धित एक करोड पांच लाख रूपये लेकर पूर्व की भांति एसबीआई मुख्य शाखा, स्टैट बैंक चारौहा, थानाक्षेत्र कोतवाली में जमा करने जाते समय दो मोटर साइकिलों पर सवार चार अज्ञात बदमाशों द्वारा स्कूटी में लात मारकर तमंचा दिखाकर एक करोड पांच लाख रूपये लूट कर फरार हो गये। इस घटना के संबंध में मुकुल बंसल द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर थाना कोतवाली पर धारा 394 आईपीसी बनाम चार बदमाश अज्ञात पंजीकृत कराया गया था। इस घटना की सूचना मिलने पर तत्काल जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ साथ अपर पुलिस महानिदेशक, आगरा जोन, आगरा व पुलिस महानिरीक्षक, आगरा परिक्षेत्र, आगरा द्वारा मौके पर पहुंचकर जांच की गई एवं घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण किया गया।  आसपास के लोगों से घटना के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी की गयी  

गुरूवार को पुलिस लाइंस में हुई पत्रकार वार्ता में अपर पुलिस महानिदेशक राजीव कृष्ण ने बताया कि यह लूट की घटना में चांदी का काम करने वाले एक व्यक्ति द्वारा रूपयों को बैंक में जमा करने की बदमाशों को सूचना दी गई थी। उसका नाम कोमल पुत्र बनवारी नि.महादेव घाट थाना सदर बाजार है जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके पास से लूट के 50 हजार रूपये मिले है। लूट करने में जीतू का दोस्त भी शामिल था। लूटे हुए रूपयों में से तीनों को 17-17 लाख दिये गए थे। शेष रूपया व घटना में प्रयुक्त मोटर साईकिलों को जीतू का दोस्त ले गया था। अभियुक्त नीतेश से शेष रूपयों के बारे में पूछा गया तो बताया कि चार लाख रूपये अपने जीजा अजय निवासी कस्बा बाजना व चार लाख रूपये अपने पिता गिरप्रसाद व दो लाख रूपये अपनी मां जगवीरी को दे दिये हैं। शेष रूपये खर्च कर दिये हैं। अभियुक्त तरूण व जीतू ने भी शेष रूपये खर्च कर लेना बताया।

अभियुक्त नीतेश ने पछूने पर अपने माता-पिता को अपने बहिनोई अजय के पास कस्बा बाजना में होना बताया, जिस पर पुलिस टीमों द्वारा नीतेश के बहनोई अजय को लूट के चार लाख रूपये, पिता गिर प्रसाद को लूट के चार लाख रूपये व मां श्रीमती जगवीरी को लूट के दो लाख रूपयो के साथ गिरफ्तार किया गया।

चांदी कारोबारी ने ही की थी बदमाशों के लिए मुखबरी

कपडे गए बदमाशों से पूछताछ में पुलिस को कई दूसरे महत्वपूर्ण सुराग भी हाथ लगे हैं। पुलिस को पता चला कि व्यापार के इसी क्षेत्र में काम करने वाले एक व्यक्ति कोमल पुत्र बनवारी निवासी महादेव घाट झोपडी थाना सदर बाजार द्वारा रुपयों को बैंक में जमा करने इत्यादि के सम्बन्ध में बदमाशों तक सूचना पहुंचायी गई थीं। जिस पर बदमाशों द्वारा योजनाबद्ध तरीके से घटना करने की रैकी व फरार होने की योजना बनाकर घटना को अन्जाम दिया गया था। रूपयों को बैंक में जमा करने आदि के बारे में बदमाशों को जानकारी देने वाले कोमल पुत्र बनवारी निवासी महादेव घाट झोपडी थाना सदरबाजार मथुरा को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से लूट के 50 हजार रूपये बरामद किये गए हैं।

पीडित परिवार का जताया आभार

एसएसपी डा.गौरव ग्रोवर ने लूट की घटना क बाद सहयोग के लिए पीडित परिवार का भी आभार जताया। पुलिस कप्तान ने कहाकि किसी भी वारदात के खुलासे में वादी का सकारात्मक रवैया पुलिस का हौंसला बढाता है। इस वारदात के खुलासे में पीडित परिवार ने पुलिस का पूरा सहायोग किया जिससे वारदात के खुलासे में मदद मिली। इसके लिए उन्होंने पीडित परिवार का धन्यवाद भी किया।