breaking news New

आश्रम, छात्रावासों में विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं की सतत निगरानी

आश्रम, छात्रावासों में विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं की सतत निगरानी

  सक्ती   जांजगीर-चांपा। कलेक्टर  जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने कहा कि जिले में संचालित आश्रम, छात्रावासों में विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं की सतत निगरानी रखी जाएगी। इस संबंध में कलेक्टर ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष जांजगीर में पुलिस राजस्व और शिक्षा विभाग से संबंधित अधिकारियों की बैठक ली। कलेक्टर ने कहा कि आश्रम, छात्रावास की व्यवस्था पर कड़ी नजर रखी जाए । इसके लिए विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियो को पालक अधिकारी की जिम्मेदारी दी जाएगी। पालक अधिकारी संबंधित आश्रम-छात्रावास का माह में एक बार निरीक्षण कर जिला कार्यालय को प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे। निरीक्षण के लिए चेक लिस्ट बनाई जाएगी। जिसमें भोजन की गुणवत्ता, साफ-सफाई, पेयजल व्यवस्था, भवन की हालत, सुरक्षा इंतजाम आदि का अनिवार्य रूप से निरीक्षण करवाया जाएगा। प्राप्त प्रतिवेदन के अनुसार तत्काल कार्यवाई भी सुनिश्चित करवाई जाएगी। 

     कलेक्टर ने कहा कि मासिक निरीक्षण के साथ-साथ आश्रम, छात्रावासों का पुलिस अधिकारियों के साथ औचक निरीक्षण भी करवाया जाएगा। सभी हॉस्टलों में विशेष कर कन्या हॉस्टलों में पालक अधिकारी व संबंधित क्षेत्र के पुलिस अधिकारियों के मोबाईल नंबर भी बड़े अक्षरों मे अंकित किया जाएगा। छात्रावासो में आगंतुकों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। विद्यार्थियों को अभिभावकों से मुलाकात के लिए एक अलग व्यवस्था बनाई जाएगी। 

कलेक्टर ने कहा कि सभी हॉस्टलों में सीसी कैमरा और रिकार्डर चालू हालत में हों,इसका प्रमाण पत्र लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हॉस्टल में आने वाले अभिभावकों की जानकारी आगंतुक रजिस्टर में अनिवार्य रूप से दर्ज की जायेगी। जिसका निरीक्षण भी किया जाएगा।  

     प्रभारी पुलिस अधीक्षक श्री विवेक शुक्ला ने कहा कि कन्या हॉस्टलों में कार्यरत् अधीक्षक सहित अन्य कर्मचारियों के सगे संबंधी भी के प्रवेश को कड़ाई से प्रतिबंधित किया जाय। निरीक्षण के दौरान सीसी कैमरा में रिकार्ड किये गये सूचना का भी परीक्षण अवश्य करें। किसी भी प्रकार की वांछित गतिविधियों की जानकारी संबंधित थाना तथा वरिष्ट अधिकारी को अनिवार्य रूप से सूचित करें। आश्रम छात्रावासों में कार्यरत् अधिकारियो कर्मचारियों का पता एवं मोबाईल नंबर संबंधित थानो में भी उपलब्ध करवाई जाय। 

     बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती लीना कोसम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री संजय महादेवा, सक्ती एसडीएम सुश्री रैना जमील, सहायक कलेक्टर सुश्री रोमा श्रीवास्तव, चांपा एसडीएम श्री आर. पी. आचला, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग, जांजगीर व सक्ती के जिला शिक्षा अधिकारी, समाज कल्याण सहित अन्य संबंधित विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।