हाथरस : परिजनों की गैर मौजूदगी में दलित लड़की के शव को आधी रात जलाये जाने के विरोध में कांग्रेस का राज्यव्यापी प्रदर्शन

हाथरस  : परिजनों की गैर मौजूदगी में दलित लड़की के शव को आधी रात जलाये जाने के विरोध में कांग्रेस का राज्यव्यापी प्रदर्शन

लखनऊ।  उत्तर प्रदेश के हाथरस में दरिंदगी की शिकार दलित लड़की के शव को परिजनों की गैर मौजूदगी में आधी रात जलाये जाने के विरोध में कांग्रेस ने बुधवार को लखनऊ समेत राज्य के विभिन्न जिलों में प्रदर्शन किया।

लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने जा रहे कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत सैंकड़ो कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठी बरसायी और वीवीआईपी गेस्ट हाउस के सामने उन्हे गिरफ्तार कर लिया।

पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया “ रात को 2.30 बजे परिजन गिड़गिड़ाते रहे लेकिन हाथरस की पीड़िता के शव को प्रशासन ने जबरन जला दिया। जब वह जीवित थी तब सरकार ने उसे सुरक्षा नहीं दी। जब उस पर हमला हुआ सरकार ने समय पर इलाज नहीं दिया। पीड़िता की मृत्यु के बाद सरकार ने परिजनों से बेटी के अंतिम संस्कार का अधिकार छीना और मृतका को सम्मान तक नहीं दिया। घोर अमानवीयता। आपने अपराध रोका नहीं बल्कि अपराधियों की तरह व्यवहार किया। अत्याचार रोका नहीं, एक मासूम बच्ची और उसके परिवार पर दुगुना अत्याचार किया। येागी आदित्यनाथ इस्तीफा दो। आपके शासन में न्याय नहीं, सिर्फ अन्याय का बोलबाला है।”

उधर, श्री लल्लू ने कहा कि भाजपा के लिए बहुत ही शर्मनाक है कि एक दलित की बेटी न्याय की आस लिए मर गई। राज्यपाल चुप क्यों हैं उनकी चुप्पी का राज क्या है, महिला होने के नाते अभी तक उनका एक भी बयान क्यों नहीं आया। प्रधानमंत्री और गृहमंत्री सहित प्रदेश के मुखिया की चुप्पी का राज क्या है। देश की बेटी सुरक्षित नहीं हैं, क्या इसी तरह की घटनाएं निरन्तर उप्र में होती रहेंगी और सरकार संवेदनहीन बनी रहेगी।

उन्होने कहा “ आज हम मुख्यमंत्री से इस्तीफा मांगने जा रहे थे मुख्यमंत्री के गुर्गों द्वारा लाठी-डण्डों से हमें पीटा गया और गिरफ्तार किया गया। क्या न्याय मांगने वालों पर लाठी चलाई जाएगी। क्या पीड़ित बहन के लिए संघर्ष की बात करने पर लाठी चलाकर दमन किया जाएगा। योगी सरकार ने इन्सानियत को शर्मसार किया है। मुख्यमंत्री गद्दी छोड़ो, आपको इस पर बैठने का कोई अधिकार नहीं रह गया है।”

प्रदेशव्यापी आन्दोलन के तहत आज हाथरस में कांग्रेस ने सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रतापगढ़ में कांग्रेस नेताओं को प्रदर्शन के दौरान लाठीचार्ज करके गिरफ्तार किया गया। वहीं हाथरस जाते हुए बदायूं हाईवे पर कांग्रेस महासचिव ब्रम्हस्वरूप सागर, असलम चैधरी सहित कई नेताओं को गिरफ्तार किया गया। जालौन, सोनभद्र, चित्रकूट, आजमगढ़, भदोही, चन्दौली समेत कई जिलों में प्रदर्शन हुआ। प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कांग्रेस ने जुलूस निकालकर संसदीय कार्यालय का घेराव किया जिस पर भारी पुलिस ने लाठीचार्ज कर गिरफ्तार किया।

शाम को युवा कांग्रेस अध्यक्ष कनिष्क पाण्डेय के नेतृत्व में युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विधानसभा के सामने विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस बल ने कांग्रेसियों पर लाठी चार्ज कर गिरफ्तार कर लिया।