breaking news New

जांजगीर चांपा : राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 पर विशेष वेबिनार का आयोजन

जांजगीर चांपा : राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 पर विशेष वेबिनार का आयोजन

जांजगीर चांपा।  अरविंद सोसाइटी और एच.डी.एफ.सी. बैंक द्वारा चलाए जा रहे देश व्यापी कार्यक्रम ‘शिक्षा में शून्य निवेश नवाचार’ के अंतर्गत राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 पर विस्तृत चर्चा- परिचर्चा और शिक्षकों को इसके सफल क्रियान्वयन के लिए तैयार करने हेतु समग्र शिक्षा – जांजगीर चांपा के सहयोग से विशेष वेबिनार का आयोजन किया गया। ऑनलाइन सम्मेलन में मुख्य अतिथि थे  दिनेश कौशिक, जिला शिक्षा अधिकारी, जांजगीर चांपा और श्री मणिलाल ब्राह्मणी, जिला मिशन समन्वयक, जांजगीर चांपा, विशिष्ट अतिथियों में शामिल हुए श्री हरी राम जायसवाल, सहायक कार्यक्रम समन्वयक पैडोगॉजी/प्रशिक्षण समग्र शिक्षा, जांजगीर चांपा और श्री अशोक शर्मा, राष्ट्रीय प्रशिक्षण प्रमुख, रूपांतर, श्री अरविंद शामिल हुए।

 ज़िले के सैकड़ों शिक्षकों ने सोशल मीडिया के माध्यम से प्रशिक्षण सत्र में प्रतिभागिता की। और एन.ई.पी. 2020 पर अपने विचार भी प्रकट किए।

वेबिनार में विचार प्रकट करते हुए श्री दिनेश कौशिक, जिला शिक्षा अधिकारी, जांजगीर चांपा ने कहा, “शिक्षा समाज को आगे बढ़ाने का साधन है। नई शिक्षा नीति समाज की कायाकल्प करने की शक्ति रखती है।” इसके साथ श्री दिनेश कौशिक ने श्री अरविंद सोसाइटी को राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर वेबिनार की श्रृखंला शुरु करने के लिए साधुवाद भी दिया और प्रयासों की प्रशंसा भी की।

 श्री मणिलाल ब्राह्मणी, जिला मिशन समन्वयक, जांजगीर चांपा ने कहा, “नई शिक्षा नीति बदलते परिवेश की आवश्यकता है। हमारे देश की युवा पीढ़ी विश्व के साथ कंधे से कंधा मिलकर आगे बढ़े इसके लिए उन्हें बाल्यावस्था से ही सर्वांगीण वातावरण प्रदान करने की आवश्यकता है। इस वेबिनार के माध्यम से शिक्षक नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को आत्मसात कर पाएंगे और सफल क्रियान्वयन में भरपूर योगदान प्रदान करने में सक्षम बनेंगे।”

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि श्री हरी राम जायसवाल ने कहा, “अब विद्यालयों में भी छात्रों को व्यावसायिक शिक्षा का लाभ मिलेगा और वे नए रोजगार का सृजन करेंगे। नई शिक्षा नीति परिवर्तनकारी सिद्ध होगी। उन्होंने कहा कि जांजगीर चांपा ज़िले के शिक्षकों के लिए विशेष वेबिनार का आयोजन करने के लिए श्री अरविंद सोसाइटी आभार और बधाई की पात्र है।

वेबिनार में उपस्थित शिक्षा अधिकारियों और शिक्षकों को संबोधित करते हुए श्री अशोक शर्मा, राष्ट्रीय प्रशिक्षण प्रमुख, श्री अरविंद सोसाइटी ने कहा कि इससे पहले भी दो शिक्षा नीतियां भारतवर्ष में लागू हुई हैं जिनमें कई संशोधन भी किए गए। नई शिक्षा नीति शिक्षा और युवाओं की बदलती आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर बनाई गई है, जिसके सफल क्रियान्वयन के लिए सभी का मिलकर प्रयास करना आवश्यक है। “कोई भी नीति केवल कागज़ों तक रहकर सफल नहीं हो सकती। जब तक उसे पूरी निष्ठा के साथ क्रियान्वित नहीं किया जाता है, तब तक उसके सकारात्मक प्रभाव नहीं मिल सकते। प्रभाव प्राप्त करने के लिए परिवर्तन को स्वीकार करना ज़रूरी है और नई शिक्षा नीति परिवर्तन पर बल देती है। नई शिक्षा नीति पर देशभर के शिक्षकों को उन्मुख करने के उद्देश्य से श्री अरविंद सोसाइटी देश के विभिन्न राज्यों के ज़िलों के लिए वेबिनार का आयोजन कर रही है। इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा के शिक्षकों के लिए वेबिनार का आयोजन किया गया, जिससे हज़ारों शिक्षकों को लाभ मिलेगा।”

 मास्टर ट्रेनर जगत ने विस्तार से राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रत्येक बिन्दु पर शिक्षकों के बीच चर्चा-परिचर्चा की और उन्हें सफल क्रियान्वयन के प्रति उन्मुख भी किया।