breaking news New

भाजपा संगठनमंत्री शिवप्रकाश ने चेताया, 'पार्टी का अभियान व्यक्ति आधारित ना हो.. मैं भी हूं रमन' अभियान पर खफा हुए..बृजमोहन अग्रवाल का टिवट चर्चा में रहा!

भाजपा संगठनमंत्री शिवप्रकाश ने चेताया, 'पार्टी का अभियान व्यक्ति आधारित ना हो.. मैं भी हूं रमन' अभियान पर खफा हुए..बृजमोहन अग्रवाल का टिवट चर्चा में रहा!

जनधारा समाचार
रायपुर. भाजपा के संगठन प्रभारी महामंत्री शिव प्रकाश दो दिन के लिए पहली बार छत्तीसगढ़ के दौरे पर थे. इस दौरान उन्होंने संगठन के प्रमुख पदाधिकारियों की बैठक ली. साथ ही राज्य सरकार के खिलाफ पार्टी की रणनीति को लेकर बड़े नेताओं के साथ विचार विमर्श किया.

पहली बार पार्टी पदाधिकारियों से रूबरू हो रहे शिवप्रकाश ने कई मुददों पर बात की. मोर्चा प्रकोष्ठों के काम के बारे में जानकारी ली और प्रत्येक जिला, संभागवार पार्टी की गतिविधियों के बारे में पार्टी पदाधिकारियों से सलाह विमर्श किया. इस दौरान उन्होंने कुछ को सराहा तो कुछ को सुधार करने और आगामी रणनीतियों पर चर्चा को केंद्रित किया.

पार्टी पदाधिकारियों के साथ शिवप्रकाश की चर्चा चल ही रही थी कि अचानक हाल ही में टूल किटस आंदोलन का मामला उठा. रमनसिंह के समर्थकों ने उसकी पूरी जानकारी दी कि आंदोलन कैसे सफल रहा. आईटी सेल के पदाधिकारी भी इस आंदोलन को लेकर जानकारी दे रहे थे कि तभी किसी ने कहा कि हमने सोशल मीडिया पर हैशटेग चलाया 'मैं भी हूं रमन' जोकि काफी सफल रहा. इस पर शिव प्रकाश ने आश्चर्य जताते हुए कहा कि इसकी जरूरत क्या थी! पार्टी के आंदोलन व्यक्ति कें​द्रित क्यों होने लग गए. फिर यह तो आम आदमी पार्टी के आंदोलन से निकला नारा है. इसकी नकल क्यों होनी चाहिए.

बैठक में रायपुर द​क्षिण के विधायक बृजमोहन अग्रवाल के हैशटेग को लेकर चर्चा रही. दरअसल रमनसिंह समर्थक सभी विधायकों, नेता प्रतिपक्ष और अन्य नेताओं ने अपने टिवट में हैशटेग 'मैं भी हूं रमन' लिखा था लेकिन बृजमोहन अग्रवाल के टिवट में इसका जिक्र नही हुआ. अग्रवाल ने टिवट में सरकार की खूब खिंचाई की लेकिन 'मैं भी हूं रमन' हैशटेग नही लिखा. अग्रवाल समर्थकों का कहना था कि भैया व्यक्तिवादी राजनीति के खिलाफ हैं. यह पार्टी का आंदोलन है ना कि रमनसिंह का. ऐसे में उनका टिवट ठीक ही रहा. यह बात शिवप्रकाश तक भी पहुंची. हालांकि रमनसिंह समर्थक नेताओं का कहना है कि जब सभी ने मिलकर तय किया था तो सभी के टिवट में 'मैं भी हूं रमन' लिखा जाना चाहिए था.

संगठनमंत्री शिव प्रकाश ने कहा कि संगठन को व्यक्ति आधारित नही होना चाहिए. उन्होंने कहा कि कोई भी धरना प्रदर्शन मुददा आधारित होना चाहिए ना कि व्यक्ति केंद्रित. एक पदाधिकारी ने कहा कि इस सरकार में पार्टी के कार्यकर्ता प्रताड़ित हो रहे हैं और बड़े नेताओं के पास कोई सुनवाई नही हो रही. इस पर शिवप्रकाश ने पूछ लिया कि किस नेता के पास कार्यकर्ता इस तरह की शिकायत कर रहे हैं और उसे सुना जाना चाहिए.

कल शाम को शिवप्रकाश ने पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों की विशेष बैठक ली. इसमें प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णु देव साय, नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमनसिंह, विधायक बृजमोहन अग्रवाल, लोकेश कावड़िया, पूर्व विधायक राजेश मूणत, केदार कश्यप, गौरीशंकर अग्रवाल, सुभाष राव, छगन मूंदड़ा सहित प्रदेशभर के नेता और पदाधिकारी वर्चुअल बैठक में शामिल हुए.