breaking news New

कोरोना: सुकमा में धारा 144 लागू

कोरोना: सुकमा में धारा 144 लागू

सुजीत वैदिक, सुकमा। जिले में नोवल कोरोना वायरस एवं नए वेरिएंट ओमीक्रॉन संक्रमण के दृष्टिगत इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए सभी संभावित उपाय अमल में लाया जा रहा है। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी विनीत नंदनवार ने स्वास्थ्यगत आपातकालीन स्थिति को नियंत्रण में रखने हेतु सभी जुलूसों, रैलियों, सभाओं, सार्वजनिक समारोहों, सामाजिक कार्यक्रमों में विवाह आयोजन एवं अन्त्येष्टि कार्यकम को छोड़कर सांस्कृतिक, धार्मिक, खेल आदि सामूहिक आयोजन को आगामी आदेश तक प्रतिबंधित किया गया है।

वहीं जिले के समस्त व्यावसायिक प्रतिष्ठान, मॉल, थोक विकेता प्रतिष्ठान, जिम, सिनेमा एवं थिएटर, होटल एवं रेस्तरां, ऑडीटोरियम, मैरिज पैलेस (सामुदायिक भवन), इवेन्ट मैनेजमेंट क्लब आदि को वास्तविक क्षमता के एक तिहाई उपस्थिति के साथ कोविड प्रोटोकॉल के पालन के अधीन संचालन की अनुमति दी गई है। यदि किसी आयोजन में 200 से अधिक व्यक्तियों की उपस्थिति की संभावना की स्थिति मे दण्डाधिकारी से लिखित आदेश जरूरी होगी।

कोई व्यक्ति कोरोना वायरस अथवा नए वेरिएंट से पिडित है तो तुरंत मदत प्रावधान हैं

यदि कोई  वायरस से संकमित है या किसी ऐसे व्यक्ति से संपर्क में है, जो संकमित हो सकता है तो यह अनिवार्य होगा कि ऐसे व्यक्ति द्वारा तत्काल सहयोग कर सारी जानकारी घोषित करे एवं सभी वांछित सहयोग निगरानी दल को देना होगा और निगरानी दल के द्वारा दिये गये मौखिक एवं लिखित निर्देशों का अक्षशः पालन करना अनिवार्य होगा। 

ऐसा नहीं किये जाने पर वह भारतीय दण्ड संहिता 1860 की युक्तियुक्त धाराओं के अधीन दण्ड का भागी होगा। कोविड-19 एवं नए वेरिएंट ओमीक्रॉन के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए शासन से जारी किसी भी निर्देश का उल्लंघन करने पर संबंधित कि खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता 1860 की युक्तियुक्त धाराओं के अधीन दण्डित किया जाएगा।

आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट यात्राओ मे अनिवार्य

रेल, वायुयान से यात्रा करने पश्चात जिले की सीमा के भीतर प्रवेश करने वाले सभी यात्रियों के पास (दोनों टीकाकरण वाले व्यक्तियों को भी) यात्रा के 72 घंटे के भीतर का आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। शर्त पूर्ण न करने वाले यात्रियों का अनिवार्य रूप से आरटीपीसीआर टेस्ट कराया जावेगा। प्रत्येक व्यक्ति को घर से बाहर सार्वजनिक स्थलों में निकलते समय मास्क, फेस ’ कवर, फिजीकल डिस्टेसिंग का पालन अनिवार्य है।