breaking news New

ठाकरे सरकार ने जाँच अस्वीकार कर दिया लेकिन हिरेन परिवार को न्याय मिलेगा : सोमैया

ठाकरे सरकार ने जाँच अस्वीकार कर दिया लेकिन हिरेन परिवार को न्याय मिलेगा : सोमैया

ठाणे।  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने शनिवार को उम्मीद जताई कि अब जब मनसुख हिरेन की हत्या की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के पास चली गई है तो परिवार को न्याय मिलेगा।
उन्होंने ठाणे में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि परिवार ने शुरुआत में ही राज्य सरकार से इसे केंद्रीय जांच एजेंसी को सौंपने की मांग की थी, जिसे ठाकरे सरकार ने अस्वीकार कर दिया था। अब केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इसे एनआईए को सौंप दिया है और उम्मीद है कि अब परिवार को न्याय मिलेगा।
उन्होंने कहा कि एंटिलिया के पास मिली जिलेटिन की छड़ें और मनसुख हिरेन की हत्या से संबंधित मामले की जांच का है लेकिन ठाकरे सरकार ने इसे दो अलग-अलग जांच एजेंसियों, एक मामला मुंबई पुलिस को और दूसरा एटीएस को सौंप दिया। क्या इसे चालकी या होशियारी कहना चाहिए।
उन्होेंने कहा कि यह मामला अब एनआईए के पास चला गया है जिससे उनके सारे प्रयास विफल हो गए।
उन्होंने यह भी कहा कि जिस पुलिस अधिकारी को मंत्रियों के अनुरोध के बावजूद देवेन्द्र फडनवीस की सरकार ने पुलिस में शामिल करने से मना कर दिया था उसी अधिकारी को उद्धव सरकार ने बहाल कर दिया ।
उन्होंने एक बार फिर शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक द्वारा अनधिकृत निर्माण और उस पर कार्रवाई करने में ठाणे नगर निगम (टीएमसी) की विफलता का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि एमवीए सरकार ने अपने कृत्यों से महाराष्ट्र के नागरिकों को धोखा दिया है।