बेमेतरा : भारत के युवाओं के आदर्श है शहीद भगत सिंह

बेमेतरा : भारत के युवाओं के आदर्श है शहीद भगत सिंह

बेमेतरा। शहीद भगत सिंह ने देश की आजादी के लिए साहस के साथ शक्तिशाली ब्रिटिश सरकार का मुकाबला किया था. अपनी इसी छवि के कारण आज वह भारत के युवाओं के लिए आदर्श हैं. उन्हें जिंदगी में और लंबा जीना था, लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था. भगत सिंह अपने देश के लिए ही जी रहे थे और देश की खातिर ही जान न्यौछावर कर दी.

उनका जन्म 28 सितंबर, 1907 को पंजाब के जिला लायलपुर में बंगा गांव (पाकिस्तान) में हुआ था. उन्हें 23 साल की उम्र में 23 मार्च 1931 को लाहौर जेल में उनके साथियों के साथ फांसी दे दी गई थी. क्या आप जानते हैं जिस दिन उन्हें फांसी दी गई थी उससे पहले वह क्या कर रहे थे. फांसी से कुछ देर पहले वह किताबें पढ़ रहे थे

भाजपा ज़िला कार्यकारी सदस्य दीपेश साहू निवास  मेआज भगत सिंह जयंती मनाया गया।

सोसल मीडिया प्रभरी अजय शर्मा , कमलेश साहू उपस्थित रहे !