breaking news New

कोरोना के टीका में गाय का खून, हिन्दु न लगवाएं टीका, हिंदू महासभा के नेता स्वामी चक्रपाणि का बयान, राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

कोरोना के टीका में गाय का खून, हिन्दु न लगवाएं टीका, हिंदू महासभा के नेता स्वामी चक्रपाणि का बयान, राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

बंगलुरू. मुंबई की रजा अकादमी के बाद अब हिंदू महासभा के नेता स्वामी चक्रपाणि ने दावा किया है कि अमेरिका में तैयार हुई कोरोना वैक्सीन में गाय का खून है इसलिए सरकार को इस दवा को भारत में इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं देनी चाहिए.

देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को भेजे ज्ञापन में स्वामी चक्रपाणि ने कहा कि कोरोना खत्म होना चाहिए और वैक्सीन भी जल्द ही लगाई जानी चाहिए, लेकिन इसके चलते अपने धर्म को नष्ट नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि प्रत्येक नई दवाई के निर्माण के वक्त उसमें मिलाए जाने वाली चीजों की जानकारी दी जाती है तो आखिर कोरोना वैक्सीन के बारे में जानकारी क्यों नहीं मिलनी चाहिए.

स्वामी चक्रपाणि ने कहा कि हमको ऐसी जानकारी मिली है कि अमेरिका में जो वैक्सीन तैयार हुई है, उसमें गाय के खून का इस्तेमाल किया गया है. सनातन धर्म में गाय को माता मानते हैं और ऐसे में अगर गाय के खून को हमारे शरीर में पहुंचाया जाता है तो उसे हमारे धर्म को नुकसान पहुंचाने की कोशिश होगी.

उन्होंने कहा कि सनातन धर्म को खत्म करने को लेकर सालों से यह साजिश रची जा रही है. इसी वजह से हम चाहते हैं कि कोरोना को लेकर भी अगर विदेश से कोई वैक्सीन आ रही है तो उसके बारे में भी पहले पूरी जानकारी दी जाए. लोगों को सारे संशय दूर होने के बाद ही वैक्सीन लगाने का काम शुरू किया जाए.