breaking news New

इंद्रावती बचाओ अभियान की पहल पर नई परंपरा प्रारंभ : पुरी की तर्ज़ बस्तर दशहरा समिति भी करेगी क्षतिपूर्ति पौधारोपण

इंद्रावती बचाओ अभियान की पहल पर नई परंपरा प्रारंभ : पुरी की तर्ज़ बस्तर दशहरा समिति भी करेगी क्षतिपूर्ति पौधारोपण

जगदलपुर।  आज़ बस्तर दशहरा समिति के अध्यक्ष सांसद दीपक बैज के मुख्य आतिथ्य में वन विभाग व इंद्रावती बचाओ अभियान के साथ संयुक्त तत्वावधान में साल के 240 पौधे रोपे गए। इस अवसर पर सांसद दीपक बैज ने कहा कि आने वाले वर्षों में हम उन क्षेत्रों में पहले पौधारोपण करेंगे और फिर रथ के लिए लकड़ियाँ लेंगे जहाँ से इस वर्ष रथ हेतु लकड़ियाँ काटी गई।उन्होंने इंद्रावती बचाओ अभियान की पहल की प्रशंसा करते हुए कहा कि मैं भी उनके अभियान में शामिल हूँ।

पद्मश्री धर्मपाल सैनी ने कहा कि हमारा सदैव यह प्रयास रहा है कि बस्तर का वन क्षेत्र सुरक्षित रहे तथा यह निरंतर बढ़े। उन्होंने यह भी कहा कि पुरी से जो अच्छी परम्पराएँ हमने दशहरा पर्व में जोड़ीं है उसमें यह भी शामिल हो जाए।

कलेक्टर बस्तर ने कहा कि पर्यावरण की सुरक्षा हेतु जारी हर प्रयास को ज़िला प्रशासन का सहयोग मिलेगा।

आज विशेष पौधारोपण कार्यक्रम के तहत कुम्हड़ाकोट स्थित दशहरा वन परिसर में बड़ी संख्या में माँझी मुखिया चालकी सहित प्रकृति प्रेमियों ने भाग लिया।

इस अवसर पर CCF  शाहिद, DFO स्टाइलों मंडावी, SDO  सुषमा नेताम, बस्तर दशहरा समिति के सदस्य, इंद्रावती बचाओ अभियान के सदस्यों ने भी पौधारोपण किया।

इंद्रावती बचाओ अभियान के किशोर पारख, संपत झा, हेमंत कश्यप, रमेश श्रीवास्तव, डॉ प्रदीप पांडे, रत्नेश बेंजामिन, हरिवेणु, रोहित सिंह बैस, सुनील खेडुलकर, पंकज देवांगन, सुधीर पांडे, श्रीनिवास रथ, रमेश उमर वैश्य, नरेश मिश्रा, आशुतोष तिवारी, चंद्रेश चांडक गाजिया अंजुम, ज्योति गर्ग, रानू शुक्ला, सुनीता उमरवैश्य, जयश्री सहित अन्य सदस्य शामिल हुए।